कल्कि आश्रम पर छापेमारी मे मिले करोड़ो रुपये, डॉलर और 500 करोड़ की अघोषित संपत्ति

Kalaki Bhagwan

नई दिल्ली : आयकर विभाग ने तमिलनाडु, कर्नाटक ,आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में आध्यात्मिक गुरू कल्कि भगवान के वैलनेस पाठ्यक्रम संचालित करने वाले संस्थानों और कंपनियों के 40 स्‍थानों पर छापेमारी की है जिसमें इस समूह की 500 करोड़ रुपये की अघोषित संपत्ति का पता चला है। आयकर विभाग ने यह जानकारी देते हुए कहा कि 16 अक्टूबर को समूह के 40 परिसरों पर छापेमारी की कार्रवाई की गई जो तीन दिनों तक चली।

हीरे जवाहरात और विदेशी मुद्रा
इस कार्रवाई के दौरान नकद राशि के साथ साथ 25 लाख डॉलर (करीब 18 करोड़ रुपये) मुल्य की विदेशी मुद्रांए बरामद की गयी। 26 करोड़ रुपये से अधिक के लगभग 88 किलोग्राम सोने-चांदी के आभूषण, लगभग 5 करोड़ रुपये के 1271 कैरेट हीरे भी मिले।
तलाशी में समूह के ठिकानों से आयकर विभाग ने 43.9 करोड़ रुपये बरामद किये हैं। अब तक लगभग 93 करोड़ रुपये मूल्य की संपत्ति बरामद हुयी है। जांच अभियान जारी है। विभाग की टीम को समूह के संस्‍थापक और उसके बेटे के आवासों और उनके एक परिसर से बड़ी मात्रा में नकद राशि और अन्य मूल्यवान वस्तुएं मिली हैं।

विदेशी कंपनियों में निवेश
पता चला कि यह समूह भारत के साथ साथ चीन, अमेरिका, सिंगापुर, संयुक्त अरब अमीरात जैसे देशाें की कंपनियों में भी निवेश कर रखा है,जिन्हें भारत में चलाये जा रहे वेलनेस पाठ्यक्रम में शामिल होने वाले विदेशी लोगों द्वारा भी भुगतान किया जाता रहा है। आयकर विभाग इस तरह निवेश से भारत में कर योग्य आय के विदेशी कंपनियों में जाने के मामले की जांच कर रहा है।

देश-विदेश में करोड़ों का है निवेश

जानकारी के मुताबिक, इस ग्रुप को 1980 में कल्कि भगवान ने बनाया था। अध्यात्म के नाम पर शुरू हुआ यह ग्रुप अब रियल एस्टेट, कंस्ट्रक्शन, स्पोर्ट्स आदि चीजों में देश-विदेश में निवेश करता है। वर्तमान में इसे कल्कि भगवान और उनके बेटे कृष्णा भगवान द्वारा चलाया जाता है। ट्रेनिंग प्रोग्राम के लिए आने वाले लोगों से मोटी रकम वसूली जाती है। एक अधिकारी ने बताया कि ये लोग तमिलनाडु और आंध्र प्रदेश में बड़े पैमाने पर जमीन खरीदने के लिए पैसे डायवर्ट करते रहे हैं।आयकर विभाग ने बताया कि शुरुआती जांच में वित्तीय वर्ष 2014-15 के लिए 409 करोड़ रुपये की अघोषित आय का पता चला है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ममता की हुंकार : नहीं होने देंगे एनआरसी

सागरदिघी (मुर्शिदाबाद) : राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) को लेकर राजनीतिक बहस बढ़ती ही जा रही है। बुधवार को मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने हुंकार भरते हुए आगे पढ़ें »

डीआरआई का रेड और नोटों की बारिश

कोलकाता : महानगर के डलहौसी इलाके के बेन्टिक स्ट्रीट में बुधवार की दोपहर बाद अचानक एक कामर्शियल बिल्डिंग से नोटों की बारिश होने लगी। घटना आगे पढ़ें »

ऊपर