शादी के लिए जोड़े थे लाखों, मंदिर में लिए फेरे और ₹37 लाख कोविड रिलीफ फंड्स में दे दिए

तमिलनाडु : कोरोना काल में शादियों को लेकर बहुत सी खबरें आई। कहीं पूरी की पूरी बारात को ही कोरोना हो गया, कहीं किसी ने प्लेन बुक करके उसमें शादी कर ली। ऐसी अजीबोगरीब खबरें आई कि कहीं दूल्हा दुल्हन को लेने के लिए अकेला ही साइकिल से चला गया। खैर अब एक और राहत की खबर आ रही है। एक कपल ने शादी का खर्च कम करके पैसे बचाए, फिर वो रकम उन्होंने कोरोना रिलीफ फंड्स में डोनेट कर दी।
तमिलनाडु का है मामला
खबरों के मुताबिक, यह मामला तमिलनाडु के तिरुपूर का है। पहले अनु और अरुल की शादी का बजट 50 लाख रुपये था। लेकिन उन्होंने इसे कम किया। उन्होंने 14 जून को हुई अपनी शादी में 13 लाख रुपये खर्च किए।
बाकी रकम कोरोना के लिए डोनेट कर दी
उन्होंने बाकी जो 37 लाख रुपये बचे थे वो कोरोना राहत फंड्स में डोनेट किए। उन्होंने कई सरकारी और कई गैर सरकारी संगठनों में यह रकम दान कर दी।
मंदिर में की शादी
अरुल का फैमिली बिजनेस है। वो प्लास्टिक के प्रोडक्ट्स बेचते हैं। उन्होंने बताया कि बहुत से मेहमान कोरोना के कारण शादी में शिरक्त नहीं कर पाए। यहां तक कि वेडिंग हॉल वाले ने भी किराया वापस कर दिया। यह किराया उन्होंने एडवांस दिया था। घर के बुजुर्गों ने यह तक किया कि शादी उसी तारीख को होगी। तो कम मेहमानों के साथ Vattamalai Angalamman मंदिर में शादी की गई।
सीख मिलती है
इस दौर में अनु और अरुल ने अपनी शादी में खर्च करने वाली रकम को देश के नाम किया। लोगों की मदद के लिए डोनेट किया। उन्होंने बता दिया कि इस वक्त अगर आप किसी की मदद करने में समर्थ हैं, तो जरूर मदद करें। इस सच्ची कहानी से आप भी बहुत कुछ सीख सकते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

ब्रेकिंगः बस में अधिक किराया वसूले जाने पर…

लिया बस का अधिक किराया तो बस की परमिट होगी रद्दः फिरहाद कहा अधिक किराया लेने वाले बस के खिलाफ कड़ी कार्रवाई सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः निजी बस के आगे पढ़ें »

ऊपर