नीति आयोग ने कहा- हवा में ज्यादा तेजी से फैल रहा कोरोना

आइसीएमआर ने कहा- दूसरी लहर कम खतरनाक
नई दिल्ली : आखिरकार केंद्र सरकार ने भी मान लिया है कि कोरोनावायरस का संक्रमण हवा में ज्यादा तेजी से फैल रहा है। नीति आयोग के सदस्य वीके पॉल ने सोमवार को ये बात कही। हालांकि, इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने कहा कि दूसरी लहर कम खतरनाक है।
युवाओं की संक्रमण दर में पिछले साल के मुकाबले इजाफा नहीं
वीके पॉल ने बताया कि पिछले साल आई लहर में जितने लोग संक्रमित हुए, उनमें 30 साल के कम उम्र वाले 31% थे। इस बार की लहर में ये प्रतिशत 32% है। 30 से 45 साल के बीच की उम्र वाले 21% हैं। पिछले साल भी संक्रमितों में इनकी तादाद इतनी ही थी। ऐसे में साफ है कि युवाओं में संक्रमण ज्यादा होने जैसी बात नहीं है। आइसीएमआर के डीजी बलराम भार्गव ने कहा कि पिछले साल की लहर जितनी खतरनाक थी, उसके मुकाबले इस साल की कोरोना की लहर कम खतरनाक है। आइसीएमआर और नीति आयोग ने ये बातें मेडिकल जर्नल लैंसेट की रिपोर्ट के हवाले से कही है। लैंसेट ने कुछ दिन पहले कहा था कि WHO और दूसरी स्वास्थ्य एजेंसियों को अब इस वायरस से लड़ने के तरीके में तुरंत बदलाव करना होगा।

शेयर करें

मुख्य समाचार

शोभन से मिलने गयीं वैशाखी फफक कर रो पड़ी

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : नारदा मामले में सीबीआई ने कोलकाता के पूर्व मेयर शोभन चटर्जी काे निजाम पैलेस से प्रेसिडेंसी जेल में ले जाने के बाद आगे पढ़ें »

इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में झड़प, चली गोली, 1 घायल

कैनिंग थानांतर्गत गड़खाली इलाके की घटना इलाके में पुलिस पिकेटिंग सन्मार्ग संवाददाता दक्षिण 24 परगना : कैनिंग में इलाका दखल को केंद्र कर तृणमूल के दो गुटों में आगे पढ़ें »

ऊपर