5000 हेल्थ अस्टिटेंट को दी जाएगी मरीजों की देखभाल की ट्रेनिंग : केजरीवाल

नई दिल्ली : राज्यों ने जानलेवा कोरोना वायरस की संभावित तीसरी लहर से निपटने की तैयारी शुरू कर दी है। इसी क्रम में दिल्ली सरकार भी पिछले करीब एक महीने से तीसरी लहर से निपटने की तैयारी कर रही है। आज दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस करके जानकारी दी है कि दिल्ली में सरकार ने 5000 हेल्थ अस्टिटेंट तैयार करने की एक बहुत महत्त्वाकांक्षी योजना बनाई है।
सीएम केजरीवाल ने कहा है, ‘’दिल्ली में कोरोना मरीजों की देखभाल करने के लिए 5000 युवाओं को 2-2 हफ़्ते की ट्रेनिंग दी जाएगी। युवाओं को ये ट्रेनिंग आईपी यूनिवर्सिटी दिलवाएगी। सभी युवाओं को दिल्ली के 9 बड़े मेडिकल इंस्टीट्यूट में बेसिक ट्रेनिंग की सुविधा मिलेगी।’’

केजरीवाल ने बताया है कि इन युवाओं की ट्रेनिंग होने के बाद स्वास्थ्य सुविधाएं बढ़ेंगी। इन युवाओं को कोरोना मरीजों को मास्क लगाना, उन्हें ऑक्सीजन लगाना और सैनेटाइज करने जैसे बेसिक कामों की ट्रेनिंग दी जाएगी और इन लोगों को दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में जरूरत के हिसाब से भेजा जाएगा।’’

12वीं कक्षा पास भी कर सकते हैं आवेदनकेजरीवाल

सीएम केजरीवाल ने कहा, ”ये 5000 हेल्थ अस्टिटेंट डॉक्टर और नर्स के अस्टिटेंट के रूप में काम करेंगे। 17 जून से इसके लिए ऑनलाइन आवेदन किया जा सकता है और 28 जून से इनकी ट्रेनिंग शुरू होगी। इसके लिए 12वीं कक्षा पास लोग योग्य हैं।” 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सुबह से ही दिख रहा है महानगर में गुलाब का असर

कोलकाता : मौसम विभाग की ओर से बताया गया कि म्यांमार तट पर निम्न दबाव बना है जिस कारण पश्चिम बंगाल के दक्षिणी जिलों में आगे पढ़ें »

ऊपर