खुशखबरीः तो बस इतने दिनों के बाद खत्म हो जायेगी संक्रमण की दूसरी लहर

नई दिल्लीः भारत में कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर जुलाई तक खत्म होने की संभावना है। वहीं अगले 6 से 8 महीनों में संक्रमण की तीसरी लहर आने की भी आशंका है। विज्ञान मंत्रालय के तहत आने वाले विज्ञान और प्रौद्योगिकी विभाग द्वारा बनाए गए तीन सदस्यों के एक पैनल ने इसका अनुमान लगाया है।

एक रिपोर्ट के मुताबिक, SUTRA मॉडल का इस्तेमाल कर वैज्ञानिकों ने यह अनुमान लगाया है कि मई के अंत तक प्रतिदिन मामले 1.50 लाख और जून के अंत तक 20,000 नए केस आएंगे।

SUTRA एक गणितीय मॉडल है, जो कोरोना वायरस के मामलों की बढ़ोतरी का अनुमान जताने में मदद करता है और इसके आधार पर नीतिगत फैसले लिए जा सकते हैं। पैनल के एक सदस्य और IIT कानपुर के प्रोफेसर मनिंदर अग्रवाल ने बताया, “महाराष्ट्र, उत्तर प्रदेष, कर्नाटक, मध्य प्रदेश, झारखंड, राजस्थान, केरल, उत्तराखंड, गुजरात, हरियाणा, दिल्ली और गोवा जैसे राज्यों में दूसरी लहर का पीक खत्म हो चुका है।”

इस मॉडल के सुझाव के मुताबिक, तमिलनाडु में 29 और 31 मई के बीच और पुडुचेरी में 19-20 मई को नए मामलों को पीक देखने को मिलेगा। रिपोर्ट के अनुसार, पूर्वी और उत्तरपूर्वी भारत में अभी पीक देखा जाना बाकी है। असम में 20-21 मई, मेघालय में 30 मई और त्रिपुरा में 26-27 मई को पीक देखा जा सकता है। वहीं उत्तर में, हिमाचल प्रदेश और पंजाब में अब भी मामले बढ़ रहे हैं। हिमाचल प्रदेश में 24 मई को और पंजाब में 22 मई को पीक आ सकता है।

तीसरी लहर में स्थानीय स्तर पर फैलेगा संक्रमण- प्रो अग्रवाल

इस मॉडल के अनुमानों की मानें तो भारत में 6 से 8 महीनों में कोरोना संक्रमण की तीसरी लहर आ सकती है और इसके प्रभाव को कम किया जा सकता है। प्रोफेसर अग्रवाल ने कहा, “यह स्थानीय स्तर पर फैलेगा और ज्यादा लोग इससे प्रभावित नहीं होंगे क्योंकि तब तक उन्हें वैक्सीन लग चुकी होगी। कम से कम अक्टूबर 2021 तक संक्रमण की तीसरी लहर नहीं आएगी।”

इसी मॉडल से जुड़े IIT हैदराबाद के प्रोफेसर विद्यासागर ने बुधवार को कहा था कि यदि देश में वैक्सीनेशन अभियान तेज नहीं किया गया और संक्रमण से निपटने के लिए जरूरी नियमों का पालन नहीं किया गया, तो अगले 6 से 8 महीने में कोविड की तीसरी लहर आने की आशंका है। उन्होंने इटली की एक रिसर्च के हवाले से बताया, “अगर एंटीबॉडी खत्म हो जाती है, तो इम्युनिटी क्षमता कम होने की आशंका है। ऐसे में वैक्सीनेशन बढ़ाया जाना चाहिए और कोविड-19 को फैलने से रोकने में जरूरी नियमों का पालन किया जाना चाहिए।”

 

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

बड़ी खबर : बंगाल में एक दिन में कोविड से 58 की मौत, 3 हजार से नीचे आए नए मामले

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस का ग्राफ और नीचे आया है। अब एक दिन में कोरोना वायरस के संक्रमण से 2788 नए मामले सामने आगे पढ़ें »

लोकप्रियता के टॉप पर मोदी : दुनिया के 13 देशों के नेताओं में टॉपर

वॉशिंगटन : कोरोना महामारी की दूसरी लहर और भारत में उसके बुरे प्रभाव के बाद भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की लोकप्रियता कायम है। अमेरिकी डेटा आगे पढ़ें »

ऊपर