दिल्‍ली में फिर लगी कोरोना पाबंदियां

नई दिल्‍ली : देश में कोरोना का खतरा एक बार फिर पैर पसार रहा है जहां एक ओर ओमिक्रॉन वेरिएंट ने लोगों की चिंताएं बढ़ाई हैं, वहीं कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए भी शासन प्रशासन हरकत में आ रहा है। राजधानी दिल्‍ली में कोरोना की दस्‍तक को ध्‍यान में रखते हुए मुख्‍यमंत्री केजरीवाल ने आज बैठक की और नई गाइडलाइंस जारी कीं। इसमें क्रिसमस, न्‍यूईयर की गैदरिंग को ध्‍यान में रखते हुए गाइडलाइंस जारी की गई हैं।
राज्‍य में क्रिसमस और न्‍यूईयर के समारोहों पर रोक लगा दी गई है। DDMA ने इसके लिए आदेश जारी किया है और इसके उल्‍लंघन पर सख्‍त कार्यवाई की भी बात कही गई है। क्रिसमस के मौके पर भीड़ जुटने और संक्रमण फैलने की आशंका है, इसलिए सार्वजनिक स्थानों पर क्रिसमस के जश्न पर रोक लगा दी गई है। न्यू ईयर पर भी कोई पार्टी पब्लिक प्लेस पर नहीं हो सकेगी। बैंक्वेट हॉल में शादी, मीटिंग, कॉन्फ्रेंस और एग्जीबिशन के अलावा और कोई कार्यक्रम नहीं हो सकेगा।
प्रशासन ने अभी स्‍कूलों को बंद करने का फैसला नहीं लिया है। राज्‍य में स्‍कूल पहले कोरोना और फिर एयर पॉल्‍यूशन के चलते बंद किए गए थे। स्‍कूल सीनियर क्‍लासेज़ के लिए 20 दिसंबर से खुले हैं जबकि जूनियर क्‍लासेज़ के लिए 03 जनवरी से खोले जाने हैं। हालांकि, इस बीच स्‍कूलों में विंटर वेकेशन भी होने हैं इसलिए राज्‍य सरकार ने स्‍कूलों पर प्रतिबंध नहीं लगाया है। यदि कोरोना के मामले और बढ़ते हैं या संक्रमण का खतरा गहराता है, तो स्‍कूलों को वापिस ऑनलाइन मोड पर शिफ्ट किया जा सकता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पहली बार रख रहे हैं गुरुवार का व्रत? इन बातों का रखें विशेष ध्यान

कोलकाता : हिंदू धर्म के अनुसार सप्ताह के सातों दिन किसी न किसी देवी देवता को समर्पित किए गए हैं। इन दिनों के हिसाब से आगे पढ़ें »

ऊपर