NSG के जवान को दिल्ली में नहीं मिला ICU बेड, रास्ते में तोड़ा दम

नई दिल्ली : दिल्ली में कोरोना का कहर इतना बढ़ता जा रहा है, जिसके चलते ब्लैक कैट कमांडो यानी NSG के ग्रुप कमांडर की मौत हो गई। सूत्रों से मिली जानकारी के मुताबिक NSG के ग्रुप कमांडर बीरेंद्र कुमार झा को दिल्ली में तत्काल प्रभाव से आईसीयू बेड न मिलने के चलते उनकी मौत हो गई। बताया गया है कि बीरेंद्र कुमार झा 22 अप्रैल को अर्धसैनिक बल के रेफरल हॉस्पिटल नोएडा में कोरोना से संक्रमित होने के चलते भर्ती हुए थे। उनकी हालत उस दौरान काफी सामान्य थी, लेकिन 4 मई की शाम 6:00 बजे अचानक बीरेंद्र कुमार झा की तबीयत बिगड़ी, जिसमें उनका ऑक्सीजन लेवल एकदम नीचे जाने लगा।

बेड मिलने में हुई पांच घंटे के देरी 
बीरेंद्र कुमार झा को इसके बाद नोएडा के रेफरल हॉस्पिटल में आईसीयू बेड खाली ना होने के चलते दूसरे अस्पताल में ले जाने की सलाह दी गई, जिसके तुरंत बाद दिल्ली में अस्पताल ढूंढने का सिलसिला शुरू हुआ। सूत्रों ने जानकारी दी है कि NSG के ग्रुप कमांडर को अस्पताल में आईसीयू बेड मिलने में करीब 5 घंटे से ज्यादा का समय गुजर गया, इस दौरान बीरेंद्र कुमार झा की तबीयत और क्रिटिकल होती गई।

रास्ते में तोड़ा दम 
बताया गया है कि शुरुआती दौर में करीब रात 11:00 बजे मैक्स सुखदेव बिहार में उनको ले जाया गया, वहां भी बेड ना होने की वजह से NSG के ग्रुप कमांडर को एस्कॉर्ट फॉर्टिस दिल्ली में भर्ती कराने के लिए ले जाया गया, लेकिन उनकी स्थिति इतनी ज्यादा क्रिटिकल थी कि वहां पहुंचते-पहुंचते उनकी डेथ हो गई। बता दें कि दिल्ली में जिस तरीके के हालात बने हुए हैं, उसमें लोगों को बेड मिलना काफी मुश्किल हो रहा है। NSG के ग्रुप कमांडर के लिए आईसीयू बेड ढूंढा जा रहा था, जिसमें समय लगने की वजह से ब्लैक कैट कमांडो के इस ग्रुप कमांडर की डेथ हो गई।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सोमवार से वार्ड नं. 42 में शुरू होगा वैक्सीनेशन

विधायक की पहल पर शुरू होगा वैक्सीनेशन कोलकाता : आगामी सोमवार से बड़ाबाजार के वार्ड नं. 42 में वैक्सीनेशन कैंप चालू किया जा रहा है। जोड़ासांको आगे पढ़ें »

‘विजयवर्गीय का अब स्वागत नहीं’, लगे ‘गो बैक’ के पोस्टर

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : विधानसभा चुनाव में हार के बाद प्रदेश भाजपा के विभिन्न स्तर पर विरोध के स्वर तेज हो रहे हैं। अब भाजपा के आगे पढ़ें »

ऊपर