आइसीएमआर ने हासिल की बड़ी सफलता, अब तक 40 करोड़ लोगों की हुई टेस्टिंग

नई दिल्ली : कोरोना महामारी से निपटने के लिए केंद्र सरकार समेत देश के सभी संस्थान लगे हुए हैं। अब सरकार ने कोरोना टेस्टिंग के मामले में बड़ी सफलता हासिल की है। इंडियन काउंसिल ऑफ मेडिकल रिसर्च ने कहा कि देश में अब तक 40 करोड़ लोगों को कोरोना टेस्टिंग हो चुकी है। यह उपलब्धि 25 जून यानी शुक्रवार को हासिल की गई। इस उपलब्धि को हासिल करने के लिए जून में रोजाना 18 लाख लोगों के कोरोना सैंपल जांचे गए। जिसकी वजह से 25 जून को 40 करोड़ 18 लाख 11 हजार 892 लोगों की कोरोना जांच पूरी हो गई।
पिछले साल 7 जुलाई को 1 करोड़ का टारगेट पूरा
आइसीएमआर ने कहा कि देश में पिछले साल 7 जुलाई को 1 करोड़ लोगों की कोरोना टेस्टिंग का टारगेट हासिल कर दिया था। इसके बाद पिछले साल 23 अक्टूबर को 10 करोड़ और इस साल 6 फरवरी को 20 करोड़ लोगों की टेस्टिंग के लक्ष्य को हासिल किया गया। संस्थान के मुताबिक इसी साल 6 अप्रैल को देश में 25 करोड़, 8 मई को 30 करोड़ और 1 जून को 35 करोड़ लोगों के कोरोना जांच के टारगेट को अचीव किया गया। अब सरकार ने 25 जून को 40 करोड़ से ज्यादा लोगों की कोरोना टेस्टिंग के आंकड़े को पार कर लिया है।
ज्यादा टेस्टिंग से लोगों की जान बचाने में मदद
आइसीएमआर ने कहा कि ज्यादा टेस्टिंग होने से कोरोना संक्रमित लोगों को ट्रेस करने में मदद मिल रही है। इसके चलते वक्त रहते उनका इलाज शुरू हो पा रहा है। जिससे लोगों की कीमती जान बच पा रही है। साथ ही समाज में कोरोना संक्रमण फैलने से भी रोकने में मदद मिल रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

सावन में बुधवार का दिन भी होता है बेहद खास, ये 5 उपाय दिखाएंगे कमाल

कोलकाता : हिन्दू धर्म में ज्योतिषशास्त्र के अनुसार सावन का माह बेहद ही खास माना जाता है। यह माह पूर्ण रूप से भगवान शिव को आगे पढ़ें »

ऊपर