आरसीपी सिंह मामले में कूदे चिराग पासवान, जदयू को दे दी सलाह

पटना : बिहार में राज्यसभा के टिकट को लेकर सीएम नीतीश की पार्टी जदयू में अभी भी खींचतान जारी है। इस खींचतान की वजह केंद्रीय मंत्री आरसीपी सिंह को माना जा रहा है, क्योंकि आरसीपी सिंह को इसबार राज्यसभा के टिकट के लिए काफी मशक्कत करनी पड़ रही है। हालांकि, अभी तक उन्हें पार्टी की तरफ से हरी झंडी नहीं मिली है। इन सब के बीच अब इस मुद्दे पर लोजपा (रामविलास) के अध्यक्ष चिराग पासवान का बड़ा बयान सामने आया है।

जदयू के लिए आरसीपी सिंह बहुत काम किए हैं: चिराग
बता दें कि शुक्रवार को दिल्ली से पटना पहुंचने पर चिराग पासवान से जब एयरपोर्ट पर आरसीपी सिंह के मामले पर सवाल पूछा गया तो उन्होंने बड़े सधे अंदाज में जवाब दिया। चिराग ने कहा कि जदयू के लिए आरसीपी सिंह बहुत काम किए हैं। इसलिए पार्टी को उन्हें उम्मीदवार बनाना चाहिए। हालांकि, उन्होंने यह भी कहा कि यह जदयू का आंतरिक मामला है और उसके नेता ही निर्णय ले सकते हैं कि किसे उम्मीदवार बनाना है। चिराग ने राजद से उम्मीदवार मीसा भारती और फैयाज अहमद को शुभकामना भी दी।

जो बाते दिखती हैं, वो होती नहीं हैं: जीतन राम मांझी
वहीं अब इस मामले में हम पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जीतन राम मांझी ने कहा कि आप लोग देख लीजिएगा आरसीपी सिंह ही राज्यसभा जाएंगे। जो बातें दिखती हैं, वो होती नहीं हैं और जो दिखती नहीं वो होती हैं। एनडीए इंटैक्ट है, आपलोग भले जो मान लें, लेकिन नीतीश कुमार और आरसीपी सिंह में दोस्ती बरकरार है, दोनों के बीच कोई मतभेद नहीं है। यह समय आने पर दिख जाएगा।

कल हुई थी सीएम नीतीश और आरसीपी के बीच बैठक
सीएम नीतीश कुमार और आरसीपी सिंह के बीच करीब एक घंटे तक मुलाकात हुई। इस दौरान जदयू अध्यक्ष ललन सिंह भी सीएम आवास पर मौजूद रहे। इस बैठक के बाद आरसीपी सिंह मीडिया से बात किए बिना वहां से निकल गए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

दुर्गापूजा से पहले नये कलेवर में सजेगा बंगाल का होम स्टे

 नजर होम स्टे पर 80% होम स्टे उत्तर बंगाल में हैं, 20% दक्षिण बंगाल में इन जगहों पर हैं होम स्टे कलिम्पोंग दार्जिलिंग कर्सियांग जलपाईगुड़ी अलीपुरदुआर का डुआर्स बांकुड़ा पुरुलिया हुगली बंगाल में होम स्टे की आगे पढ़ें »

ऊपर