चीन ने अरुणाचल प्रदेश में बसाया गांव

बीजिंगः चीन ने भूटान के बाद अब भारत के अरुणाचल प्रदेश की सीमा के अंदर गांव बसा लिया है। इस गांव में करीब 101 घर भी बनाए गए हैं। यह गांव अरुणाचल प्रदेश में वास्‍तविक भारतीय सीमा के करीब 4.5 किमी अंदर स्थित है। इस गांव को त्‍सारी चू गांव के अंदर बसाया गया है। यह गांव अरुणाचल प्रदेश के ऊपरी सुबनसिरी जिले में स्थित है। चीन का यह गांव भारत की सुरक्षा के लिए बड़ा खतरा बन गया है। उधर, बीजेपी सांसद सुब्रमण्‍यन स्‍वामी ने चीन के भारतीय जमीन पर कब्‍जा करने के सवाल पर कहा है कि वह रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बातचीत करेंगे।
सूत्रों के मुताबिक ऊपरी सुबनसिरी जिला भारत और चीन के बीच लंबे समय से विवाद का केंद्र रहा है और इसको लेकर सशस्‍त्र संघर्ष भी हो चुका है। रिपोर्ट में सैटलाइट तस्‍वीरों को कोई विशेषज्ञों को दिखाया गया है और उन्‍होंने चीनी गांव की पुष्टि की है। चीन ने इस गांव का ऐसे समय पर निर्माण किया है जब पश्चिम सेक्‍टर में लद्दाख में भारत और चीन की सेनाएं आमने-सामने हैं।
बीजेपी के अरुणाचल प्रदेश के सांसद ने लोकसभा को दी थी चेतावनी

ताजा सैटलाइट इमेज एक नवंबर 2020 की है जिसमें गांव नजर आ रहा है। इससे एक साल पहले की तस्‍वीर में यह गांव नजर नहीं आ रहा है। माना जा रहा है कि चीन ने यह गांव एक साल पहले ही बसाया है। इससे पहले अक्‍टूबर में चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्‍ता ने कहा था कि कुछ समय से भारतीय पक्ष अपने आधारभूत ढांचे का सीमा पर व‍िकास कर रहा है और सेना की तैनाती कर रहा है जो विवाद का मुख्‍य विषय है।

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह से बात करेंगे सुब्रमण्‍यन स्‍वामी
इस बीच बीजेपी सांसद सुब्रमण्‍यन स्‍वामी ने चीन के भारतीय जमीन पर कब्‍जा करने के सवाल पर कहा है कि वह रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह से बातचीत करेंगे। स्‍वामी ने ट्वीट करके कहा, ‘यह मानना बड़ी गलती होगी कि चीन ने लद्दाख और अरुणाचल प्रदेश में भारतीय जमीन पर कब्‍जा कर लिया है। इसे दो राज्‍यों के जनता के द्वारा चुने गए बीजेपी के सांसदों ने पुष्टि की है। जब अवसर आएगा तो मैं राजनाथ सिंह से बातचीत करुंगा। विदेश मंत्रालय केवल इतना कहेगा कि हम तनाव घटाने के लिए वार्ता कर रहे हैं। इसका क्‍या मतलब है?’

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

टीएमसी उम्मीदवारों की लिस्ट जारी

कोलकाताः पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनाव 2021 के पहले टीएमसी और बीजेपी के बीच राजनीति जंग जारी है। दोनों पार्टियों ने अब पहले और दूसरे चरण के आगे पढ़ें »

फरेबी आशिक से माशूका का ‘सॉलिड’ बदला, करनी पड़ गई आधी रात में शादी

बरेली: उत्तर प्रदेश के बरेली से अजब-जगब मामला सामने आया है। यहां एक प्रेमिका प्रेमी के दरवाजे पर धरने पर बैठ गई। उसने जमकर हंगामा किया। आगे पढ़ें »

ऊपर