जिंदगी में कभी संतरे नहीं खाएंगे ये दोस्त, वजह जानकर पेट पकड़ कर हंसने लगेंगे आप

नई दिल्ली: फ्लाइट में प्रति व्यक्ति सामान ले जाने की सीमा तय की गई है। लेकिन कभी-कभी यात्री तय सीमा से ज्यादा सामान ले जाते हैं, जिसके बाद उन्हें परेशानी का सामना करना पड़ता है। कुछ लोग ज्यादा दिमाग वाले होते हैं और वे ऐसी स्थिति में भी जुगाड़ का रास्ता ढूंढ ही लेते हैं। ऐसे ही जुगाड़ की नई घटना सामने आई है।
दरअसल, चीन का एक व्यक्ति एयरपोर्ट अथॉरिटी द्वारा तय की गई लिमिट से ज्यादा सामान ले गया था। आमतौर पर ऐसी स्थिति में यात्रियों को एक्सट्रा लगेज के रुपये देने पड़ते हैं, लेकिन चीनी यात्रियों के एक समूह ने जुगाड़ से अपने रुपये भी बचा लिए और यात्रा भी कर ली। यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है।

ज्यादा पैसे देने के बजाय खाए 30 किलो खंतरे
यह घटना दक्षिण पश्चिम चीन के यूनान प्रांत में हुई थी, जो इन दिनों चर्चा का विषय बनी हुई है। लोग इस घटना के बारे में सुन कर तरह-तरह के रिएक्शन दे रहे हैं। सूत्रों के मुताबिक, वांग नाम का शख्स अपने दोस्तों के लिए 30 किलो संतरों का एक बॉक्स लाए थे। वे अपने दोस्तों के साथ बिजनेस ट्रिप पर जा रहे थे। उन्होंने यह बॉक्स 50 युआन यानी कि 564 रुपये में खरीदा था। जब वे एयरपोर्ट से फ्लाइट की ओर जाने लगे तो उन्हें बताया गया कि सामान ज्यादा हो रहा है, फिर उन्होंने जुगाड़ लगाकर दोस्तों के साथ 30 किलो संतरे वहीं पर खा लिए।

जुगाड़ देखकर लोग हुए हैरान
वांग और उनके साथियों ने आपस में बात की। फिर उन्हें लगा कि एयरपोर्ट अथॉरिटी द्वारा मांगी जा रही रकम काफी ज्यादा है। बेहतर होगा कि वे संतरे वहीं खा लें। वांग ने ग्लोबल टाइम्स को बताया कि उन्होंने और उनके साथियों ने एयरपोर्ट पर खड़े होकर ही संतरे खाने शुरू किए और खत्म भी कर दिए। उन्होंने बताया कि इतने संतरे खाने के बाद अब शायद वे लोग जीवनभर संतरे नहीं खा सकेंगे। एयरपोर्ट पर आते-जाते यात्री भी उन्हें देखकर हैरान थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

मधुशाला पर भी चुनाव आयोग की विशेष नजर!

देशी से लेकर विदेशी शराब की बिक्री का रखा जा रहा हिसाब सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः इस बार भी चुनाव आयोग की नजर मधुशालाओं पर भी है। आयोग आगे पढ़ें »

104 डिग्री मिला तापमान तो अंत में ही दे सकेंगे वोट

चुनाव आयोग की कोरोनाकाल में विशेष गाइडलाइन सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः कोरोना काल में विधानसभा चुनाव में संक्रमण से बचाव के लिए चुनाव आयोग ने विशेष पहल की आगे पढ़ें »

ऊपर