सार्वजनिक जगहों पर छठ पूजा बैन

नई दिल्ली : छठ पूजा को लेकर दिल्ली सरकार ने बड़ा फैसला किया है। कोरोना संकट को देखते हुए सार्वजनिक स्थान पर छठ पूजा इस बार भी नहीं हो सकेगी। त्योहारों को लेकर डीडीएमए ने नई गाइडलाइंस जारी की हैं जो कि 15 नवंबर तक प्रभावी रहेंगी। इस दौरान छठ पूजा के साथ-साथ दिवाली और दशहरा भी आएगा। दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण ने अपने ऑर्डर में कहा है कि छठ पूजा के लिए मेला आयोजन करने की छूट नहीं होगी। ना ही सार्वजिनक स्थान पर छठ पूजा होगी। कोरोना संकट की वजह से साल 2020 में भी छठ पूजा घर पर ही मनाने की अपील की गई थी। इससे पहले दिल्ली में सार्वजनिक स्थानों पर गणेश उत्सव, विसर्जन करने की भी छूट नहीं दी गई थी। तब भी सार्वजनकि कार्यक्रमों पर रोक थी।
कब है छठ पूजा?
बता दें कि दिवाली के छह दिन बाद से ही छठ पूजा शुरू हो जाती है. इस बार छठ पूजा का त्योहार 8 नवंबर से शुरू होगा।छठ पूजा चार दिनों तक चलती है।
डीडीएमए ने त्योहारों के लिए जारी की गाइडलाइंस
– डीडीएमए ने सिर्फ छठ नहीं बल्कि नवंबर तक आने वाले बाकी त्योहारों के लिए भी गाइडलाइंस जारी की हैं। इसमें लिखा है कि फेस्टिव सीजन के दौरान दिल्ली में मेला, फूड स्टाल, झूले, रैली आदि की इजाजत नहीं है।
– छठ पूजा के लिए लिखा गया है कि सार्वजनिक जगहों, पब्लिक ग्राउंड, नदी के किनारों, मंदिरों आदि में छठ पूजा नहीं की जा सकेगी। ऐसे में लोगों को घर में छठ पूजा करने को कहा गया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

मानसून ने बंगाल से ली विदाई, अब सर्दी की बारी

सुबह व रात को सर्दी का हो रहा अहसास सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः मौसम में हो रही हलचल ने हाल के दिनों में लोगों को परेशान कर रखा आगे पढ़ें »

ऊपर