सबके सामने भाई-बहन का रिश्ता और घर के भीतर ये सब, बेटे ने देखा तो उठा लिया ये खतरनाक स्टेप

हरियाणा : काफी समय से लिव-इन में रह रही शादीशुदा महिला और डॉक्टर की मौत का पुलिस ने खुलासा कर दिया है। दरअसल महिला पति से दूर रहती थी। वहां किराएदार डॉक्टर के साथ उसके फिजिकल रिलेशन हो गए। वो बेटे, परिवार और समाज के सामने डॉक्टर को अपना भाई मानती थी। यहां तक कि महिला का 19 साल का बेटा भी उसके आशिक को मामा कहकर बुलाता था। जब बेटे ने दोनों को आपत्तिजनक हालत में देखा तभी उसकी दोनों का अंत करने की ठान ली थी। बेटे ने मां और उसके प्रेमी की गोली मारकर हत्या कर दी।
कोटपूतली के भांकरी गांव की रहने वाली 38 वर्षीय सुमन चौधरी की शादी हरियाणा में हुई थी। शादी के बाद सुमन को एक लड़की और एक लड़का हुए। इधर कुछ सालों से पति से अनबन के कारण उसका तलाक का मामला चल रहा है।
तब से वो कोटपुतली के शिव कॉलोनी में रहने लगी थी। शुरू में बेटा पंकज भी साथ रहता था। बाद में वो पिता के पास हरियाणा में रहकर ग्रेजुएशन की पढ़ाई करने लगा। इधर सुमन के मकान में ऊपरी तल पर 41 वर्षीय आयुर्वेद का डॉक्टर मातादीन रहता था।
कोटपूतली में दवाखाना खोला था। सुमन ने लोगों से कहा था कि मातादीन को वो अपना भाई मानती है और उसे राखी भी बांधती है। वो उसे भइया कहती थी। इधर मातादीन ने भी लोगों के सामने सुमन को बहन कहता था। डॉक्टर अलवर के बानसूर का रहने वाले है। उसकी पत्नी और बच्चे वहीं रहते हैं।
जिसे मामा कहता था उसे मां के कमरे में इस हालत में देखा : पंकज मातादीन को मामा कहता था। वो कभी-कभी मां के पास आता और चला जाता था। उसे दोनों के रिश्ते की सच्चाई का पता नहीं था। दिसंबर में वो मां के पास अचानक पहुंचा और मातादीन के साथ आपत्तिजनक हालत में देख लिया। उसने बहन को फोनकर घटना के बारे बताया और उसने ये भी कहा कि अब वो दोनों को नहीं छोड़ेगा।
इधर पंकज ने हरियाणा निवासी अपने दोस्त दिलबाग जाट के साथ मिलकर मां और उसके प्रेमी की हत्या की साजिश रची। दोनों ने एक पिस्टल और कारतूस की व्यवस्था कर कोटपूतली पहुंचे। वो दोनों नीचे वाले कमरे में खाना खाकर सो गए। रात 1 बजे पंकज जगा तो मां का कमरा भीतर से बंद था और मातादीन अपने कमरे में नहीं था। उसे मामला समझते देर नहीं लगा। उसने दरवाजा खटखटाकर मां से सिरदर्द की गोली मांगी। सुमन ने जैसे ही दरवाजा खोला पंकज ने उसकी कनपटी पर पिस्तौल रखकर घोड़ा दबा दिया।
नग्न अवस्था में रजाई से बाहर आया डॉक्टर : इधर गोली की आवाज सुनते ही मातादीन नग्न अवस्था में रजाई से बाहर आया। पंकज ने उसपर भी गोली दाग दी। दोनों वहां से भाग निकले। कुछ दूर रास्ते में जाने पर लगा कि शायद मातादीन मरा नहीं है। वो दोबारा आए और घायल पड़े डॉक्टर पर कई गोलियां दागी जिससे उसकी मौत हो गई। इसके बाद वे वहां से फरार हो गए।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

काजी नज़रुल यूनिवर्सिटी में विद्यार्थियों ने फिर से शुरू किया धरना

आसनसोल: काजी नज़रुल यूनिवर्सिटी में विद्यार्थियों ने फिर से धरना शुरू कर दिया। बता दें कि कल अर्थात शुक्रवार को विद्यार्थियों ने ऑनलाइन परीक्षा लेने आगे पढ़ें »

ऊपर