एक ऐसा क्रिकेट टूर्नामेंट जिसमें सिर्फ ब्राह्मणों को ही थी खेलने की अनुमति

खेल में भी आया जातिवाद, खिलाड़ियों को कहा गया था आईडी प्रूफ लाने को
 हैदराबाद : भारत के संविधान में जाति आधारित भेदभाव को प्रतिबंधित किया गया है। आजादी के कई साल बाद आज भी जातिवाद समाज में मौजूद है। इसका एक उदाहरण हैदराबाद में देखने को मिला है। हाल ही में हैदराबाद में एक ब्राह्मण क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया था। इसमें चौंकाने वाली बात यह है कि इसमें खेलने वाले खिलाड़ियों को अपने साथ आईडी प्रूफ लाने को कहा गया था। इस टूर्नामेंट के पोस्‍टर में साफ तौर पर यह लिखा गया था कि कोई भी दूसरी जाति का व्‍यक्ति इस टूर्नामेंट में नहीं खेल पाएगा। हैदराबाद के नागोल में स्थित बीएसआर क्रिकेट ग्राउंड में हाल ही में इस ब्राह्मण क्रिकेट टूर्नामेंट का आयोजन किया गया। इसका पोस्‍टर सामने आने के बाद ट्विटर पर इसे लेकर चर्चा हो रही है। यह आयोजन 25 और 26 दिसंबर को आयोजित किया गया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

तृणमूल का इंजन हैं ममता, सबको साथ लेकर चलती हैं : पार्थ

कहा : कौन किस स्टेशन पर उतरेगा उससे पार्टी को फर्क नहीं पड़ता तृणमूल की संपदा कार्यकर्ता है जो हमारे साथ है सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : पार्टी से आगे पढ़ें »

इस बार खास, सारे पोलिंग बूथ होंगे अंडरग्राउंड

80 साल से अधिक उम्र व दिव्यांग मतदाताओं को होगी सहूलियत सी-विजिल एप पर कर सकेंगे किसी प्रकार की शिकायत सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः आगामी विधानसभा चुनाव को लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर