प्राइवेट पार्ट में फंस गया बम, अस्पताल पहुंचा शख्स तो कांपने लगे डॉक्टर्स!

नई दिल्लीः ब्रिटेन में रहने वाले एक शख्स के प्राइवेट पार्ट में बम फंस गया। घायल हालत में जब वह अस्पताल पहुंचा, तो डॉक्टर्स भी हैरान रह गए। इसके बाद डर के मारे आनन-फानन में बम को डिफ्यूज करने के लिए बम निरोधक दस्ता बुलाया गया। दरअसल, शख्स के प्राइवेट पार्ट से निकाला गया बम वर्ल्ड वॉर-2 का बताया जा रहा है। रिपोर्ट के मुताबिक, शख्स वर्ल्ड वॉर-2 के जमाने के एक टैंक के गोले पर गिर गया था। इस दुर्घटना में टैंक के गोले का नुकीला सिरा उसके प्राइवेट पार्ट में फंस गया था। घायल हालात में उसे अस्पताल पहुंचा गया लेकिन प्राइवेट पार्ट में फंसे बम को देखकर ग्लॉसेस्टरशायर रॉयल अस्पताल के डॉक्टरों ने बम निरोधक दस्ता बुला लिया। हालांकि, उससे पहले ही बम को बाहर कर दिया गया और शख्स का इलाज शुरू कर दिया गया। बताया गया कि बम निष्क्रिय था और इससे ब्लास्ट होने का खतरा नहीं था।

कैसे प्राइवेट पार्ट में फंसा बम?
शख्स ब्रिटिश आर्मी का पूर्व सदस्य था। उसे पुराने जमाने के हथियारों को इकट्ठा करने का शौक है। वर्ल्ड वॉर-2 के समय के इस एंटिक गोले को भी अपने शस्त्रागार में रखा था, लेकिन बीते दिन सफाई के दौरान शख्स का पैर फिसल गया और वो सीधे टैंक के इस गोले के ऊपर ही गिर गया, जिससे गोले का नुकीला सिरा उसके प्राइवेट पार्ट में फंस गया। जिसके बाद दर्द से चीखते शख्स को तुरंत अस्पताल में भर्ती करवाया गया, जहां डॉक्टरों ने एहतियातन बम निरोधी दस्ते को बुला लिया। फिलहाल इलाज के बाद शख्स की हालत ठीक है, उसे अस्पताल से छुट्टी भी दे दी गई है। अस्पताल के एक प्रवक्ता ने कहा कि उन्होंने मामले की गंभीरता को देखते हुए सुरक्षा के प्रोटोकॉल का पालन किया था और बम निरोधी दस्ते को बुलाया। हालांकि, इस केस के कारण अस्पताल के कर्मचारियों, मरीजों या उनके साथ के लोगों को कोई खतरा नहीं था।
शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

आरसीपी सिंह मामले में कूदे चिराग पासवान, जदयू को दे दी सलाह

पटना : बिहार में राज्यसभा के टिकट को लेकर सीएम नीतीश की पार्टी जदयू में अभी भी खींचतान जारी है। इस खींचतान की वजह केंद्रीय आगे पढ़ें »

ऊपर