कोच्चि से लाया गया दुर्लभ बाम्बे ओ नेगेटिव ब्लड, बची रोगी

कोलकाता के सरकारी अस्पताल एसएसकेएम में भर्ती मरीज की जान बचाने के लिए केरल से दुर्लभ ‘बाम्बे ओ’ नेगेटिव ग्रुप ब्लड कोलकाता लाया गया। इसके बाद डाक्टरों ने मरीज का जटिल आपरेशन कर उसकी जान बचाई। वह पूर्व मेदिनीपुर के चांदीपुर की रहने वाली मंसुरा बीबी पिछले 25 दिनों से एसएसकेएम के स्त्री रोग विभाग में भर्ती हैं। उनका आपरेशन करने के लिए ‘बाम्बे ओ’ नेगेटिव ग्रुप ब्लड की जरुरत थी। एक स्वयंसेवी संस्था की पहल पर मरीज के लिए केरल के कोच्चि के बंदनम मेडिकल कालेज से दुर्लभ ‘बाम्बे ओ’ नेगेटिव ग्रुप ब्लड कोलकाता लाया गया। 10 मिनट बाद ब्लड को ब्लड बैंक में जमा करने को कहा गया। इसके बाद अस्पताल ने ब्लड बैंक से रक्त को संग्रह किया।गौरतलब है कि ‘बाम्बे ओ’ नेगेटिव ग्रुप एक ऐसा दुर्लभ रक्त समूह है जो करोड़ों लोगों में एक में पाया जाता है। यह सिर्फ अपने ही ब्लड ग्रुप टाइप वालों से ही ब्लड ले सकता है। भारत में इस ब्लड ग्रुप के 279 सदस्य हैं। इसे सबसे पहले साल 1952 में डाक्टर वाई जी भिड़े ने खोजा था। इस ब्लड ग्रुप के शख्स किसी भी एबीओ फेनोटाइप रिम में आने वाले सदस्य को रक्त दे सकते हैं, लेकिन खुद के लिए रक्त लेना संभव नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

दशमी के दिन महानगर के गंगा घाटों पर सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम

शोभायात्रा में डीजे बजाने पर कोलकाता पुलिस ने लगाया है रोक सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : महानगर में प्रतिमा विसर्जन के शोभायात्रा में डीजे बजाने पर पुलिस द्वारा आगे पढ़ें »

ब्रेकिंग: तेंदुए के हमले में एक व्यक्ति घायल

नागराकाटा: तेंदुए के हमले में एक व्यक्ति घायल हो गया । घटना आज बुधवार रात करिबन,8 बजे का है । घायल युवक का नाम करण आगे पढ़ें »

ऊपर