सीएम उद्धव ने रोकी राज्यपाल कोश्यारी की सरकारी विमान

मुबंई : राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और महाराष्ट्र सरकार के बीच फिर एक बार विवाद खड़ा हो गया है। राज्य सरकार ने मुंबई से उत्तराखंड जाने के लिए राज्यपाल को सरकारी विमान देने से मना कर दिया। हालांकि, राज्य के डिप्टी सीएम अजित पवार ने कहा कि उन्हें इस बारे में कोई भी जानकारी नहीं है। वहीं भाजपा के नेता राज्य सरकार के इस कदम की आलोचना कर रहे हैं।
5 पॉइंट में राज्यपाल के कार्यक्रम से जुड़ी  जानकारी …
1. महाराष्ट्र और गोवा के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी को शुक्रवार यानी 12 फरवरी को मसूरी स्थित लाल बहादुर शास्त्री आइएस एकेडमी के एक कार्यक्रम में पहुंचना है।
2. इसके चलते गवर्नर गुरुवार यानी 11 फरवरी को 10 बजे मुंबई के छत्रपति शिवाजी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पहुंचे।
3. मसूरी दौरे को देखते हुए राज्यपाल सचिवालय ने 2 फरवरी को ही महाराष्ट्र सरकार को पत्र लिखकर सरकारी विमान के इस्तेमाल की अनुमति मांगी थी। इस बारे में मुख्यमंत्री को भी सूचना दी गई थी।
4. गुरुवार को राज्यपाल तय समय पर हवाईअड्डे पहुंचे और विमान में बैठ गए। तभी राज्यपाल को बताया गया कि सरकारी विमान के इस्तेमाल की इजाजत नहीं मिली।
5. इसके बाद कोश्यारी के निर्देश पर उनके लिए कमर्शियल एयरक्राफ्ट में टिकट बुक की गई। दोपहर 12.15 बजे वे मुंबई से देहरादून के लिए रवाना हुए।
भाजपा नेताओं में नाराजगी
राज्य सरकार के इस कदम से भाजपा नेताओं में नाराजगी है। पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा है कि राज्यपाल महोदय के साथ घटी यह घटना दुर्भाग्यपूर्ण है। यह महाराष्ट्र के इतिहास में काला अध्याय है। वे कोई सामान्य व्यक्ति नहीं, बल्कि महाराष्ट्र के राज्यपाल हैं। महाविकास अघाड़ी सरकार अहंकार वाली सरकार है। सरकार को आखिर इतना ईगो क्यों है?
मंदिर खोलने को लेकर भी हुआ था मनमुटाव
राज्यपाल कोश्यारी और उद्धव सरकार के बीच मनमुटाव कोई नया नहीं है। इससे पहले राज्यपाल ने चिट्ठी लिखकर राज्य में धार्मिक स्थल खोलने पर विचार करने को कहा था। राज्यपाल ने लिखा था कि आप खुद को हिंदुत्व का समर्थक मानते हैं और मंदिर से पहले राज्य में शराब की दुकानें खोल दीं। चिट्ठी के जवाब में उद्धव ठाकरे ने राज्यपाल को जवाब दिया था कि उन्हें किसी से हिंदुत्व पर सर्टिफिकेट लेने की जरूरत नहीं है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ममता के बेहद करीबी रहे दिनेश त्रिवेदी भाजपा में शामिल

नई दिल्ली: भाजपा के राष्‍ट्रीय अध्‍यक्ष जेपी नड्डा की मौजूदगी में आज (शनिवार) पश्चिम बंगाल की एक जानमानी हस्‍ती पूर्व टीएमसी नेता दिनेश त्रिवेदी भाजपा आगे पढ़ें »

marriage

7 नहीं अब ‘8 वचनों’ का होगा वादा, बिना इसके पूरी नहीं होगी शादी! जानें इसकी खासियत

नई दिल्लीः कहते है शादी एक ऐसा अटूट बंधन है, जिसे ताउम्र निभाने के लिए पति-पत्नी सात वचन लेते हैं। हमारे यहां इन सात वचनों आगे पढ़ें »

ऊपर