बागपत : ऋचा पटेल की सजा पर बोली साध्वी प्राची- कुरान बांटना सजा है या फतवा

Sadhvi Prachi

बागपत : भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और विश्व हिंदू परिषद की नेता साध्वी प्राची ने ऋचा पटेल के मामले में अदालत के फैसले पर ‌निशाना साधते हुए कहा कि यह सजा है या किसी प्रकार का फतवा। ज्ञात हो कि सोशल साइट पर आपत्तिजनक पोस्‍ट करने के मामले में अदालत ने ऋचा पटेल को अजीबो-गरीब फैसला सुनाया है। इस मामले में आरोपी ऋचा को रांची की एक अदालत ने 15 दिनों में कुरान की पांच प्रतियां बांटने की शर्त पर जमानत दी है। उन्होंने अदालत के फैसले पर आपत्ति जताते हुए कहा ऐसा लग रहा है कि सीरिया जैसे देश का फतवा जारी किया गया हो।

मंदिर तोड़ने वालों को वेद की प्रतियां बांटनी चाहिए

ऋचा पटेल मामले की सजा पर अदालत के बयान को घेरते हुए साध्वी ने कहा कि अब देश में कानून सक्रिय हो रहे हैं। अगर ऐसा है तो फिर दिल्ली में दुर्गा मंदिर और मुजफ्फरनगर में हनुमान मंदिर तोड़ने वालों को कांवड़ लेने भेजा जाए। साथ ही उनलोगों से कहा जाए कि आप वेद की प्रतियां बांटो, देश में अमन चैन आएगा। साथ ही उन्होंने कहा कि ऋचा मामले में झारखंड सरकार को अपनी ओर से इस मामले पर कार्रवाई करनी चाहिए।

भाजपा का किया समर्थन

साध्वी प्राची ने बरेली के भाजपा विधायक पप्पू भरतौला का पक्ष लेते हुए कहा कि पार्टी को बदनाम करने के लिए ऐसा घिनौना षड्यंत्र रचा जा रहा है। साथ ही उन्होंने उन्नाव और बागपत में जय श्री राम न बोलने पर मुस्लिम युवकों से मारपीट करने के मामले पर कहा कि यह सब एक षड्यंत्र का हिस्सा है, जो लोगों के अंदर भेदभाव की भावना का बढ़ा रहा है। उन्होंने इस पर मामले पर टिप्‍पणी करते हुए कहा कि भारत में देश विरोधी गैंग सक्रिय हो रहे हैं, जो देश को तोड़ना चाहते हैं। ‌

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर