कोरोना महामारी के बीच इन देशों के लिए बुरी खबर, एडस संकट जैसे हालात दोहराने के आसार

नई दिल्ली :  एक ओर जहां दुनिया कोरोना महामारी  के दंश से पूरी तरह उबरी भी नहीं पाई है। अमीर देशों में तो अधिकांश आबादी का टीकाकरण हो चुका है लेकिन अफ्रीकी देशों में करोड़ों लोग कोरोना के कवच से वंचित हैं। इस बीच अमेरिकी स्वास्थ्य सेवा विभाग के अधिकारियों ने कुछ देशों में ठीक वैसी स्थितियां बनने की आशंका जताई हैं जैसे 20 साल पहले एड्स संक्रमण  के दौर में बनी थीं। मिली जानकारी के अनुसार आज से करीब 20 साल पहले एक विनाशकारी वायरस उन देशों को बर्बाद कर रहा था जिनके पास अमेरिका जैसे अमीर देश के लोगों के लिए मौजूद दवाओं की कमी थी।  इस वायरस को एचआईवी नाम दिया गया था। उस दौर में इसके इलाज की दवाओं का पेटेंट हुआ और भारी कीमत तय की गई। गरीब देशों के पास इस संक्रमण की दवा और इंजेक्शन को सही तापमान पर रखने की क्षमता नहीं थी। ऐसे में ये काफी दुखद है कि इतने सालों बाद भी ऐसी स्थितियों में बदलाव नहीं आया है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पहले बांधा हाथ-पैर, फिर मुंह में ठूसा कपड़ा…सास ने ऐसे बचायी जान

औरैयाः उत्तर प्रदेश के औरैया में एक बहू ने अपनी सास को मारने की साजिश रची थी। उसने अपने भाई और बहनोई के जरिए सास आगे पढ़ें »

ब्रेकिंगः बंगाल में और सस्ता हुआ पेट्रोल-डीजल, सीएम ने घटाया वैट

ब्रेकिंग : अब बिदके सौमित्र

इन तीन बातों के पूरा होते ही ‘दयाबेन’ की शो में हो जाएगी वापसी!

कियारा के एक फोन कॉल से पिघले सिद्धार्थ मल्होत्रा, हुआ पैच-अप, बोले…

बड़ा खुलासाः विक्की कौशल चाहकर भी पूरा नहीं कर सकते है पत्नी कैटरीना का मां बनने का सपना

अब रेस्टोरेंट में खाना होगा सस्ता, ग्राहकों को नहीं देना पड़ेगा सर्विस चार्ज

बिना सर्जरी के महिला के स्तन कुछ महीनों में B साइज़ से DD आकार तक बढ़े, वजह आपको चौका देगी

बैंक अकाउंट में इस दिन आएंगे 2 हजार रुपये, जरूर कर लें ये काम!

घर में क्या चलता था, पड़ोसी बता रहे हैं अलग-अलग बातें, दिल्ली में मां-बेटियों की खुदकुशी का रहस्य क्या?

ऊपर