अस्पताल से घर आए कांता प्रसाद, बताया क्यों खाई थी नींद की गोलियां!

नई दिल्लीः बाबा का ढाबा चलाने वाले कांता प्रसाद को सफदरजंग अस्पताल से छुट्टी मिल गई है। बीते दिनों कि बात है जब उन्होंने नींद की गोलियां खा ली थी। कथित तौर पर उन्होंने सुसाइड करने की कोशिश की थी। अब उन्होंने पुलिस के सामने दर्ज करवाया है अपना बयान। इसमें उन्होंने बताया कि आखिर उन्होंने यह कदम क्यों उठाया था। कांता प्रसाद ने बयान में कहा है कि कुछ यूट्यूबर्स ने उनपर गौरव वासन से माफी मांगने के लिए दबाव बनाया था। जिसके कारण वो डिप्रेशन में चले गए थे। दिल्ली के डीसीपी अतुल कुमार ठाकुर ने बताया कि बाबा की हालत स्थिर है, वो घर पर आ गए हैं। हालांकि अभी किसी पर एफआईआर दर्ज नहीं की गई है। लेकिन पुलिस इस मामले में यूट्यूबर्स की भूमिका की जांच कर रही है।
कुछ वर्षों पहले भी खाई थी नींद की गोलियां
जब बाबा ने नींद की गोलियां खाई थी तो उनके बेटे ने भी मीडिया को बताया था कि उसके पिता जी डिप्रेशन में थे। 6 साल पहले भी उन्होंने ऐसे ही नींद की गोलियां खा ली थी। उसने कहा कि अब बीते दिनों काफी लोग बोल रहे थे कि (गौरव वासन से) माफी मांगो, माफी मांगो। कई लोगों ने बातों-बातों में उन्हें फोर्स भी किया। बहुत से लोग बुरा भी बोलते थे। गाली भी देते थे। इस कारण वो परेशान हो गए थे। कुछ लोग तो दुकान पर आकर दो-चार बातें बोलकर चले जाते थे।
बीते साल Baba Ka Dhaba को सुर्खियों में लाने वाले गौरव ही थे। उन्होंने अपने फूड चैनल ‘स्वाद ऑफिशियल’ पर 6 अक्टूबर को 11 मिनट का एक वीडियो डाला गया था। इसमें बुजुर्ग कांता प्रसाद रो रहे थे। यह वीडियो काफी वायरल हुआ। लोग Baba Ka Dhaba पर उनकी मदद करने के लिए पहुंचने लगे। हालांकि बाद में उन्होंने गौरव पर पैसों के मामले में धोखाधड़ी का आरोप भी लगाया था।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्सहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्टाफ स्पेशल ट्रेन में आम यात्री भी चढ़े

हुगली : लॉकडाउन की वजह से राज्य में लोकल ट्रेनों का परिचालन बंद है। स्टाफ स्पेशल ट्रेनें चल रही है जिसमें आम यात्रियों को यात्रा आगे पढ़ें »

ऊपर