पति को आयशा के सुसाइड का कोई अफसोस नहीं

अहमदाबाद : अहमदाबाद के आयशा सुसाइड केस में गुजरात पुलिस ने उसके पति आरिफ को राजस्थान के पाली से सोमवार रात अरेस्ट किया था। पुलिस मंगलवार शाम उसे लेकर अहमदाबाद पहुंची, जहां लॉकअप में उससे पूछताछ की गई। गिरफ्तारी से लेकर लॉकअप में पूछताछ तक यह नजर आया कि आरिफ को आयशा के सुसाइड का कोई गम नहीं है। अहमदाबाद पुलिस के डीसीपी रवींद्र पटेल ने बताया कि पूछताछ के दौरान आरिफ का बर्ताव चौंकाने वाला था क्योंकि उसके चेहरे पर आयशा की मौत को लेकर रत्तीभर भी अफसोस नजर नहीं आया। मैंने उससे आयशा के गर्भपात के बारे में भी सवाल किए, जिस पर उसने हामी भरी। यानी आयशा के परिवार का यह आरोप सही पाया गया है कि गर्भपात के बाद आयशा की हालत गंभीर होने के बावजूद आरिफ उसे देखने तक नहीं आया था। राजस्थान के जालौर में रहने वाले आरिफ पर आयशा को खुदकुशी के लिए उकसाने का आरोप है। उसे सोमवार रात पाली से गुजरात पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया।

गिरफ्तारी के वक्त पर आरिफ के चेहरे पर शिकन नहीं थी
आयशा ने बीते शनिवार को साबरमती नदी में कूदकर सुसाइड कर लिया था। सुसाइड से पहले उसने एक वीडियो बनाकर आरिफ को भेजा था। आयशा के सुसाइड के बाद जब वीडियो वायरल हुआ तो राजस्थान के जालौर में रहने वाला पति आरिफ घर से फरार हो गया। गुजरात पुलिस जालौर में उसके घर पहुंची तो परिवार वालों ने बताया था कि वह एक शादी में गया था और वहीं से कहीं चला गया है। इसके बाद मोबाइल लोकेशन के आधार पर आरिफ को सोमवार रात पाली से अरेस्ट किया गया था। जब पुलिस ने आरिफ को पकड़ा, तो उसने पुलिस के साथ चलना शुरू कर दिया जैसे कि कुछ हुआ ही न हो। उसके चेहरे पर कोई शिकन नहीं थी।

आरिफ 6 मार्च तक पुलिस हिरासत में
पुलिस ने आरिफ को मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट की कोर्ट में पेश किया। पुलिस ने 5 दिन की रिमांड मांगी थी, लेकिन अदालत ने 3 दिन की रिमांड मंजूर की। उसे 6 मार्च को दोपहर 3 बजे तक पुलिस हिरासत में भेजा गया है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

कालीघाट मंदिर में युवती से जबरन शादी करने की कोशिश, अभियुक्त गिरफ्तार

विरोध करने पर युवती से मारपीट कर तोड़ा मोबाइल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : कालीघाट मंदिर में एक युवती को ले जाकर उससे जबरन शादी करने की कोशिश आगे पढ़ें »

सॉल्टलेक के दत्ताबाद मैं भाजपा कार्यकर्ताओं ने जमकर किया तोड़फोड़

सन्मार्ग संवाददाता विधाननगर : राज्य में पांचवें चरण के मतदान संपन्न होने के बाद भी विभिन्न विधानसभा केन्द्र में चुनावी हिंसा जारी है। ताजा घटना विधाननगर आगे पढ़ें »

कारोना विस्फोट पर ममता ने मांगा प्रधानमंत्री से इस्तीफा

जिन राज्यों में चुनाव नहीं, वहां कोरोना के मामले अधिक : शाह

कोरोना संकट के बीच रेलवे ने कसी कमर, चलाई जाएंगी ‘ऑक्सीजन एक्सप्रेस’ ट्रेनें

कितने दिनों में कोविड मरीज ठीक होते हैं या हालत हो जाती है खराब, 14 दिन की लिमिट का क्या है मतलब

बटन इतना ज़ोर से दबाना कि बटन यहां दबे और करंट दीदी को कोलकाता में लगे – अमित शाह

मरीज तड़पता रहा, भर्ती कराने गए परिजनों को डॉक्टर कैमरे के सामने ही पीटते रहे

अमृता सिंह के साथ अपने रिश्ते को लेकर करीना ने खोला बड़ा राज, कहा – मैं उनसे कभी नहीं………..

घर में सो रहा था शख्स, सिर काट कर साथ ले गया कातिल

ऊपर