मोदी ने केजरीवाल को टोका- परंपरा के खिलाफ काम हो रहा, केजरीवाल का जवाब- गुस्ताखी हुई तो माफी मांगता हूं

नई दिल्लीः प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्रियों की शुक्रवार को हुई बैठक में अजीब वाकया सामने आया। बैठक का मुद्दा कोरोना के बिगड़ते हालात थे, लेकिन पूरी बात इस बैठक का दिल्ली के मुख्यमंत्री द्वारा लाइव टेलीकास्ट कर दिए जाने पर जा अटकी। दरअसल, 10 राज्यों के मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के साथ ऑनलाइन जुड़े हुए थे। जैसे ही दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के बोलने की बारी आई तो मीटिंग का लाइव टेलीकास्ट देश के टीवी चैनलों पर चलने लगा। केजरीवाल का लहजा सख्त था।

केजरीवाल प्रधानमंत्री से कह रहे थे- हम आभारी हैं कि केंद्र सरकार ने दिल्ली का ऑक्सीजन कोटा बढ़ा दिया, लेकिन हालात बहुत गंभीर हो चुके हैं। हम किसी को मरने के लिए नहीं छोड़ सकते। हमने पिछले दिनों केंद्र के कई मंत्रियों को फोन किए। उन्होंने पहले मदद की, पर अब तो वो भी थक गए हैं।

प्रधानमंत्रीजी अगर दिल्ली में ऑक्सीजन की फैक्ट्री नहीं है तो क्या दो करोड़ लोगों को ऑक्सीजन नहीं मिलेगी? जिन राज्यों में ऑक्सीजन प्लांट हैं, वो दूसरों की ऑक्सीजन रोक सकते हैं क्या? अगर किसी अस्पताल में एक-दो घंटे की ऑक्सीजन बच जाए या ऑक्सीजन रुक जाए और लोगों की मौत की नौबत आ जाए तो मैं फोन उठाकर किससे बात करूं? कोई ट्रक रोक ले तो किससे बात करूं? आप बस ये बता दीजिए।

हमें लोगों को भरोसा दिलाना होगा कि एक-एक जिंदगी कीमती है। हम दिल्ली के लोगों की तरफ से हाथ जोड़कर अपील कर रहे हैं कि तुरंत कोई कदम नहीं उठाया गया तो दिल्ली में बड़ी त्रासदी हो सकती है। मैं आपका मार्गदर्शन चाहता हूं।

सबसे ज्यादा ऑक्सीजन के ट्रक रोके जा रहे हैं। अगर आप उन राज्यों के मुख्यमंत्रियों को एक फोन लगा दें तो वह बहुत होगा। मैं मुख्यमंत्री होते हुए भी कुछ नहीं कर पा रहा। ईश्वर न करे कि कुछ अनहोनी हो गई, तो हम कभी अपने आप को माफ नहीं कर पाएंगे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीबीआई कोर्ट में सुनवाई पूरी, ममता बनर्जी बोलीं- अब अदालत में ही होगा फैसला

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक बार फिर उथल-पुथल शुरू हो गई है। सीबीआई की ओर से टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) के दो मंत्रियों आगे पढ़ें »

मुंबई में 114 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चली आंधी, एयरपोर्ट छह बजे तक बंद

नई दिल्ली : देश के दक्षिण पश्चिम राज्यों में चक्रवाती तूफान ताउते का खतरा मंडरा रहा है। अब ये तूफान गुजरात की ओर से बढ़ आगे पढ़ें »

ऊपर