सिंघु बॉर्डर पर एक और किसान की मौत

नई दिल्ली : हरियाणा में सिंघु बॉर्डर पर चल रहे किसान आंदोलन के बीच एक और किसान की मौत हो गई। किसान का शव बॉर्डर पर ही नीम के पेड़ से लटका मिला है। वह पंजाब के जिला फतेहगढ़ साहिब का रहने वाला था और काफी समय से आंदोलन से जुड़ा हुआ था। कुंडली थाना पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर कार्रवाई शुरू कर दी है।

मिली जानकारी के अनुसार, बीकेयू सिद्धपुर से जुड़े पंजाब के फतेहगढ़ साहिब की तहसील अमरोह के गांव रुड़की निवासी 45 वर्षीय गुरप्रीत सिंह पिछले काफी समय से सिंघु बॉर्डर पर अपने साथियों के साथ ट्राली में ठहरा हुआ था। दिवाली से पहले उसके साथी घर लौट गए थे। उसके बाद से ही वह ट्रॉली में अकेला रह रहा था।

बुधवार सुबह बॉर्डर पर आंदोलन में शामिल अन्य किसानों ने देखा कि एक व्यक्ति का शव हुडा सेक्टर में अंसल सुशांत सिटी से आगे नांगल रोड पर पार्कर मॉल के पास एक नीम के पेड़ पर रस्सी से लटका हुआ है। इसकी सूचना कुंडली थाना पुलिस को दी गई। पुलिस ने शव को पेड़ से उतारकर अपने कब्जे में लिया और पोस्टमार्टम के लिए अस्पताल भेज दिया है।

पुलिस के अनुसार, मृतक की पहचान गुरुप्रीत सिंह पुत्र गुरमेल सिंह के रूप में हुई। पुलिस उसके आसपास अन्य ट्रालियों पर रहने वाले किसानों से भी जानकारी जुटा रही है। पुलिस ने परिजनों को इसकी जानकारी दे दी है। पुलिस इस बात का पता लगाने में जुटी है कि आखिर हत्या हुई या फिर उसने आत्महत्या की है।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

नारियल तो नहीं टूटा… लेकिन उद्घाटन वाली सड़क जरूर टूट गई

बिजनौरः बिजनौर में सड़क बनाने में एक भ्रष्टाचार की नई तस्वीर सामने आई है, जिसमें सड़क का शुभारंभ होने के लिए फोड़े जाने वाला नारियल आगे पढ़ें »

ऊपर