अंकिता केस : भाजपा नेता के बेटे पर फूटा महिलाओं का गुस्सा, पुलिस की गाड़ी रोक कर पीटा

उत्तराखंड : उत्तराखंड में अंकिता हत्याकांड के आरोपियों पुलकित आर्य, अंकित और सौरभ भास्कर के साथ लोगों ने मारपीट की है। घटना उस वक्त हुई, जब आरोपियों को पुलिस न्यायालय में पेश करने के लिए कोटद्वार लेकर जा रही थी। इसी दौरान बैराज पुल से आगे कोडीया में सैकड़ों ग्रामीणों ने पुलिस की गाड़ी रोक ली। मामले में सभी आरोपियो को 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया गया है। इस दौरान मामले को कवर कर रहे पत्रकारों के साथ भी ग्रामीणों ने अभद्रता की और उनके मोबाइल छीन लिए। गौरतलब है कि अंकिता भंडारी पौड़ी गढ़वाल जिले के यमकेश्वर विधानसभा इलाके के एक प्राइवेट रिसॉर्ट में रिसेप्शनिस्ट थी। उसकी पहाड़ी से नीचे गंगा में धक्का देकर हत्या कर दी गई थी। अभी तक अंकिता का शव बरामद नहीं हुआ है। पुलिस और SDRF की टीमें तलाशी अभियान चला रही हैं। 19 साल की अंकिता 18-19 सितंबर से गायब थी।
18 सितंबर को कर दी गई थी हत्या
इस मामले में आरोपियों की गिरफ्तारी के बाद पुलिस ने बताया कि 18 तारीख की रात में अंकिता की हत्या कर दी गई थी। पुलिस ने इस मामले में बीजेपी नेता के बेटे पुलकित आर्य सहित तीन लोगों को गिरफ्तार किया। पुलकित आर्य के रिसॉर्ट में अंकिता रिसेप्शनिस्ट थी। मामले में डीजीपी अशोक कुमार ने कहा, “राजस्व पुलिस में गुमशुदगी की शिकायत दर्ज हुई थी। जो बीते दिन ही रेगुलर पुलिस को ट्रांसफर की गई। 24 घंटे में लक्ष्मण झूला पुलिस ने मुख्य आरोपी पुलकित आर्य सहित तीन आरोपियों ने गिरफ्तार कर लिया”।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

दुर्गापूजा के रंग में बारिश ने डाला भंग

कोलकाता : इस वक्त की बड़ी खबर आ रही है कि आज षष्ठी के साथ ही महानगर में बारिश की शुरुआत हो गयी है। मालूम आगे पढ़ें »

‘नीतीश या लालू नहीं… इस बार बिहार की जनता चाहती है बदलाव’

बिहार : बिहार में वैकल्पिक राजनीति की बात करने वाले प्रशांत किशोर 2 अक्टूबर गांधी जयंती से बिहार में प्रदेशव्यापी जन सूरज पदयात्रा शुरू करने आगे पढ़ें »

ऊपर