कार्रवाई: फेसबुक पर लगा 520 करोड़ का जुर्माना, जिफी से जुड़ा है पूरा मामला

नई दिल्ली : फेसबुक पर ब्रिटेन की प्रतिस्पर्धा नियामक ने 50.5 मिलियन पाउंड यानी करीब 520 करोड़ रुपये का जुर्माना लगाया है। फेसबुक पर यह जुर्माना जीआईएफ प्लेटफॉर्म जिफी की खरीद के बाद जांच के दौरान नियामक के आदेश का उल्लंघन करने के लिए लगाया गया है। प्रतिस्पर्धा और बाजार प्राधिकरण (सीएमए) ने इस मामले पर कहा है कि फेसबुक ने जानबूझकर ऐसा किया है। ऐसे उसके ऊपर जुर्मना लगाना और उसे चेतावनी देना अनिवार्य है, क्योंकि कोई भी कंपनी कानून से ऊपर नहीं है। नियामक का कहना है कि फेसबुक जिफी के अधिग्रहण के बारे में पूरी जानकारी देने में विफल रहा है। इसके अलावा फेसबुक जांच के दौरान जिफी को अपने प्लेटफॉर्म के साथ संचालन करने में भी विफल रहा है। नियामक ने कहा है कि फेसबुक ने जिफी के अधिग्रहण के संबंध में जरूरी सूचनाएं नहीं दी है, जबकि इसे लेकर उसे बार-बार चेतावनी दी गई है। रिपोर्ट के मुताबिक फेसबुक अपनी री-ब्रांडिंग की तैयारी कर रहा है। अगले सप्ताह फेसबुक के नए नाम का एलान हो सकता है। 28 अक्तूबर को होने वाले एक इवेंट में फेसबुक के सीईओ मार्क जुकगरबर्ग कंपनी के नए नाम की घोषणा कर सकते हैं। फेसबुक एप के अलावा कंपनी के अन्य प्रोडक्ट जैसे Instagram, WhatsApp, Oculus आदि के नाम को लेकर भी बड़े एलान हो सकते हैं, हालांकि इस रिपोर्ट पर फेसबुक की ओर से अभी तक कोई आधिकारिक टिप्पणी नहीं की गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

‘डीप फ्रीजर में कांग्रेस’ ममता का नेतृत्व चाहता है विपक्ष

ममता का नेतृत्व चाहता है ​विपक्ष, कांग्रेस 'डीप फ्रीजर' में : तृणमूल मुखपत्र फिर कांग्रेस के खिलाफ प्रखर हुई तृणमूल सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : तृणमूल और कांग्रेस के आगे पढ़ें »

ऊपर