गुजरात का बच्चा जो 8 साल तक पेड़ से बंधा रहा, एक हैरान कर देने वाली दास्तां

राजकोट: सर्दी हो, गर्मी हो या फ‍िर आए बरसात, क‍िसी शख्‍स को आठ सालों तक एक पेड़ से बांधकर रख द‍िया जाए तो उसका क्‍या हाल होगा? यह बात सुनकर ही हर क‍िसी के रोंगटे खड़े हो जाते हैं। मगर यह वाकया हकीकत में गुजरात के राजकोट ज‍िले के बोटाद तालुका में सामने आया है। यहां एक 22 साल का युवक महेश बीते आठ सालों से एक पेड़ से बंधे हुए अपना जीवन जी रहा है। हालांक‍ि अब उसके अच्‍छे द‍िन आने वाले हैं। एक सामाजिक कार्यकर्ता के प्रयासों की बदौलत महेश को जल्द ही अपना जीवन गौरव के साथ जीने का मौका मिल सकता है। दरअसल 22 साल के महेश का व्‍यवहार आठ साल पहले अचानक उग्र हो गया। उसने दूसरों से हिंसक व्यवहार करना शुरू किया। ऐसे में हर क‍िसी को मारना, उस पर पत्‍थर फेंकना उसकी आदत में शुमार हो गया। ऐसे में गरीबी से त्रस्त झुग्गी-झोपड़ी में रहने वाले महेश के परिवार ने उसको नग्न अवस्था में पेड़ से बांध दिया।
मानसिक रूप से बीमार है महेश

महेश के पिता प्रागजी ओलकिया ने बताया कि उनका बेटा मानसिक रूप से बीमार है। इसके चलते वह हिंसक हो जाता है। ऐसे में अगर कोई उसके पास जाता है तो वह पथराव शुरू कर देता है। उन्‍होंने कहा क‍ि हम बहुत गरीब हैं और उसके इलाज या उसे कहीं भी रखने के लिए हमारे पास कोई संसाधन नहीं है। इसलिए, हमने उसे एक पेड़ से जंजीर से बांधकर रखना है। यूट्यूब पर खजुभाई के नाम से मशहूर सोशल मीडिया कॉमेडियन नितिन जानी को हाल ही में अपने सोशल मीडिया हैंडल पर इस परिवार के बारे में एक मैसेज मिला और वह उनसे मिलने गए। जानी इससे पहले पिछले साल के चक्रवात के बाद सामाजिक कार्यों में लगे थे और उन्होंने कई तबाह परिवारों की मदद की थी। जानी ने कहा क‍ि हमने गांव के बाहरी इलाके में परिवार के लिए एक घर बनाया है। हमने वहां ब‍िजली और पंखे भी लगा दिए हैं। महेश को खाना-पानी भी दिया है। वह मौजूदा समय में हिंसक है। एक-दो दिन में हम उसे इलाज के लिए किसी साइकोलॉज‍िस्‍ट के पास ले जाएंगे।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

भाटपाड़ा में बमबारी से लोग है आतंकित

भाटपाड़ा : भाटपाड़ा नगरपालिका के 13 नंबर वार्ड 21 नंबर गली इलाके में मंगलवार की रात बमबारी की घटना को केंद्र कर इलाके के लोग आगे पढ़ें »

ऊपर