एक झूठ बना ‘वरदान’, कोरोना से बची पूरे परिवार की जान

गोरखपुर: हर किसी को जीवन में ये सीख जरूर मिलती है कि झूठ बोलना पाप है, मगर गोरखपुर के एक परिवार के लिए यही झूठ वरदान बन गया, इस परिवार पर पाप वाली नहीं, बल्कि ये कहावत चरितार्थ हुई कि एक झूठ से अगर किसी का भला होता है, तो वो झूठ सौ सच के बराबर होता है। परिवार में सभी लोगों की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी, मगर बेटे ने ये बात सबसे छिपा ली, जिसका नतीजा ये हुआ कि संक्रमण से बेखबर पूरे परिवार ने 10 दिन में कोरोना को हरा दिया।

बिना बताए कैसे हुआ इलाज? 
बरगदवा विकास नगर के रहने वाले एक परिवार में कोरोना के लक्षण दिखे थे। छोटे भाई देवांश ने माता-पिता और बड़े भाई समेत अपना भी 9 अप्रैल को एंटीजन टेस्ट कराया था, माता-पिता और बड़े भाई की रिपोर्ट पॉजिटिव आई, तो देवांश ने डॉक्टर से सम्पर्क कर तीनों के लिए दवाइयों के पैकेट बनवा लिए। घर पहुंचे तो मुस्कुराते हुए बताया कि सभी की रिपोर्ट निगेटिव है, लेकिन कहीं संक्रमण हो न जाए इसलिए डॉक्टर ने एहतिहातन दवाइयां दी हैं जिसे रोज खाना है। सुबह शाम भाप लेनी है और गर्म पानी पीना है। साथ ही सभी को कम से कम 10 दिन आइसोलेशन में भी रहना है, देवांश खुद भी दूसरे कमरे में रहने लगे, क्योंकि उनकी रिपोर्ट निगेटिव थी।

परिवार से क्यों छिपाई सच्चाई?
कोरोना का नाम सुनते ही कोई भी भयभीत हो जाता है। देवांश का कहना था कि उसके माता-पिता की भी यही हालत थी, कोरोना के नाम पर दोनों कांप जाते थे। इसलिए उन्होंने उनसे कोरोना की रिपोर्ट छिपाई ताकि वो मानसिक रूप से दहशत में न आएं, झूठ बोलने का नतीजा ये रहा कि सभी आइसोलेशन में आराम से रहे, सभी में कोरोना के कुछ लक्षण जरूर थे लेकिन उससे किसी को कोई खास तकलीफ नहीं हुई, जिससे सिर्फ 10 दिन के अंदर सभी निगेटिव हो गए और आज पूरी तरह से स्वस्थ हैं।

सच्चाई पता चली तो लगे ठहाके
18 अप्रैल को दोबारा तीनों की कोरोना जांच हुई तो जांच में तीनों निगेटिव आ गए। जब रिपोर्ट निगेटिव आ गई तो देवांश ने बड़े भाई को सचाई बता दी। पहले तो वो काफी चौंक गए, लेकिन कुछ देर बार ठहाके मार कर जोर-जोर से हंसने लगे। अंजाने में ही सही, मगर पूरे परिवार ने कोरोना को 10 दिन में ही हरा दिया। एक झूठ ने कोरोना को हराया और एक सच ने सभी के चेहरे पर मुस्कान बिखेर दी।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

सीबीआई कोर्ट में सुनवाई पूरी, ममता बनर्जी बोलीं- अब अदालत में ही होगा फैसला

कोलकाता : पश्चिम बंगाल की राजनीति में एक बार फिर उथल-पुथल शुरू हो गई है। सीबीआई की ओर से टीएमसी (तृणमूल कांग्रेस) के दो मंत्रियों आगे पढ़ें »

मुंबई में 114 किमी प्रतिघंटा की रफ्तार से चली आंधी, एयरपोर्ट छह बजे तक बंद

नई दिल्ली : देश के दक्षिण पश्चिम राज्यों में चक्रवाती तूफान ताउते का खतरा मंडरा रहा है। अब ये तूफान गुजरात की ओर से बढ़ आगे पढ़ें »

ऊपर