कृषि बिल के विरोध की लपटें दिल्ली तक पहुंचीं, 5 गिरफ्तार

नई दिल्ली: कृषि से संबंधित अधिनियमों के विरोध में पंजाब युवा कांग्रेस के प्रदर्शनकारियों की ओर से एक ट्रैक्टर को आग के हवाले करने के आरोप में पुलिस ने 5 लोगों को हिरासत में लिया है। पुलिस उपायुक्त ईश सिंघल ने बताया कि सुबह करीब 7 बजे 15-20 लोग इंडिया गेट के पास इकट्ठा होकर कृषि से संबंधित अधिनियमों के विरोध में प्रदर्शन करने लगे और इस दौरान उन्होंने एक ट्रैक्टर में आग लगा दी। बता दें कि इंडिया गेट नई दिल्ली के हाई सिक्योरिटी जोन के अंतर्गत आता हैै।

आजादी को उद्योगपतियों को बेचने का लगाया गया आरोप
पुलिस ने इस मामले में पांच लोगों को हिरासत में लिया है जिसकी पहचान मनजोत सिंह, रमनदीप सिंह, राहुल, साहिब और सुनत के रूप में हुई है। सभी पंजाब के रहने वाले हैं। पुलिस के अनुसार प्रदर्शनकारियों ने खुद को युवा कांग्रेस का कार्यकर्ता होने का दावा किया है। पुलिस के अनुसार प्रदर्शनकारी पुराने ट्रैक्टर को एक वाहन में लादकर अपने साथ लाए और इंडिया गेट के पास ट्रैक्टर को नीचे उतारकर उसमें आग लगा दी। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने ‘जय जवान, जय किसान’ के नारे लगाने के अलावा कांग्रेस शीर्ष नेतृत्व के समर्थन में भी नारेबाजी की। युवक अपने साथ भगत सिंह की तस्वीर भी लेकर आए थे।

युवा कांग्रेस की ओर से कहा गया है, ‘जिस देश को आजाद कराने के लिए भगत सिंह, महात्मा गांधी और जवाहरलाल नेहरू जैसे लोगों ने आजीवन संघर्ष किया, उस आजादी को भाजपा सरकार उद्योगपतियों के हाथों में बेच रही है।’ उन्होंने कहा कि शहीद-ए-आजम भगत सिंह जी की जयंती पर पंजाब के युवा कांग्रेस द्वारा इंडिया गेट पर किया गया प्रतीकात्मक प्रदर्शन इस गूंगी-बहरी सरकार को जगाने के लिए था जो अन्नदाता की आवाज़ सुनने की जगह उनका भविष्य बदहाल करने में लगी है।

गौरतलब है कि देश के कई हिस्सों में किसानों और विपक्षी दलों के विरोध प्रदर्शन के बीच राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने कृषि सुधारों से संबंधित विधेयकों को रविवार को मंजूरी दे दी थी। राष्ट्रपति के हस्ताक्षर के साथ ही कृषि सुधारों से संबंधित अधिनियम – ‘कृषक उपज व्यापार और वाणिज्य (संवर्धन और सरलीकरण) अधिनियम 2020’ तथा ‘कृषक (सशक्तीकरण और संरक्षण) कीमत आश्वासन एवं कृषि सेवा करार अधिनियम 2020’ देश में लागू हो गए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

कमलनाथ के ‘आइटम’ वाले बयान पर राहुल ने कहा…

वायनाडः मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने एक जनसभा में मंत्री इमरती देवी को 'आइटम' कहा। इसे लेकर वो बेशक खेद जता चुके हैं लेकिन आगे पढ़ें »

भारत में पहली बार रोपा गया हींग का पौधा, हो सकती है 740 करोड़ की बचत

औषधीय गुणों से भरपूर हींग की अब देश में ही पैदावार होगी। पालमपुर स्थित सीएसआईआर की प्रयोगशाला, इंस्टीच्यूट ऑफ़ हिमालयन बायोरिसोर्स टेक्नोलॉजी के प्रयासों का आगे पढ़ें »

ऊपर