3 दिन तक मंत्रियों की क्लास लेंगे पीएम मोदी !

अगले 3 साल का प्लान तैयार कर बैठक में आने का निर्देश
नई दिल्ली : नये कैबिनेट के गठन के बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अब अपनी टीम के साथ लंबी मंथन करेंगे। अगले हफ्ते पीएम मोदी की यह मीटिंग होनी है। ऐसा बताया जा रहा है कि इस बैठक में पीएम अपने कैबिनेट के सहयोगियों के साथ भविष्य के लक्ष्यों पर विचार-विमर्श करेंगे। सूत्रों के मुताबिक यह अहम बैठक 10 अगस्त से शुरू होगी जो तीन दिनों तक चलेगी। तीन दिनों तक प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, मंत्रियों की क्लास लेंगे और उनसे भविष्य के एक्शन प्लान के बारे में जानकारी लेंगे। यह पहला मौका होगा जब कैबिनेट के विस्तार के बाद पीएम मोदी मंत्रिपरिषद के सदस्यों के साथ इतनी लंबी बैठक करेंगे। कुछ वरिष्ठ मंत्रियों ने इस बात की पुष्टि की है कि सरकार ने उन्हें हिदायत दी है कि वो अपने कामकाज का लेखा-जोखा तैयार कर लें। सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में आम लोगों की जिंदगी को आसान बनाने के लिए बनाई गई योजनाओं को जमीन पर उतारने के लिए विस्तृत रणनीति बनाई जाएगी। सूत्रों ने यह भी बताया कि बैठक के दौरान सभी विभाग के मंत्री अपने कामकाज को लेकर तीन सालों का प्लान भी प्रधानमंत्री को बताएंगे। ‘आत्मनिर्भर भारत’ को लेकर जहां इस मीटिंग में चर्चा होगी तो वहीं कोविड-19 महामारी की चुनौतियों से निपटने को लेकर भी मंथन किया जाएगा। मंत्रियों को यह भी कहा गया है कि अगले तीन सालों में जिन राज्यों में विधानसभा चुनाव होने हैं उन राज्यों के लिए कौन-कौन सी योजनाएं बनाई गईं हैं और उन्हें कैसे अमलीजामा पहनाया जाएगा उसपर वो पूरी तैयारी कर इस मीटिंग में आएं। सूत्रों ने बताया है कि मुख्य तौर से मोदी सरकार चाहती है कि हर विभाग में चलाई जा रही योजनाएं समय पर आम नागरिकों तक पहुंचाया जाए। इस मीटिंग में कैबिनेट मंत्री, प्रधानमंत्री को बताएंगे कि अगले तीन साल में वो कौन-कौन सी योजनाओं पर काम करेंगे और कैसे अपने लक्ष्य को हासिल करेंगे।

 

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

पूजा के पहले कोलकाता से लाभपुर के लिए बस परिसेवा

विशेष पहल से लोगों को मिली राहत सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साउथ बंगाल स्टेट ट्रांसपोर्ट कार्पोरेशन (एसबीएसटीसी) ने विशेष पहल करते हुए बीरभूम जिले के लाभपुर के लिए आगे पढ़ें »

ऊपर