बकाया बिजली बिल के कारण बीएसएनएल के 11 सौ टावर बंद

11 Hundred Towers of BSNL closed due to outstanding electricity bill

नयी दिल्ली : बिजली बिल का भुगतान नहीं करने के कारण सरकारी दूरसंचार सेवा प्रदाता कंपनी बीएसएनल के करीब 11 सौ मोबाइल टावर बंद हो गये हैं। साथ ही 5 सौ से अधिक एक्सचेंज भी काम नहीं कर रहे हैं। दूरसंचार विभाग के आंकड़ों के अनुसार, 10 जुलाई 2019 तक बिजली का बिल नहीं चुकाने के कारण देश भर में बीएसएनएल के 524 एक्सचेंज और 1,083 मोबाइल टावरों के बिजली का कनेक्शन काट दिया गया है, जिससे ये निष्क्रिय पड़े हैं। वहीं उत्तर प्रदेश में सबसे अधिक 391 टावरों का और महाराष्ट्र में सबसे अधिक 178 एक्सचेंजों का बिजली कनेक्शन कट चुका है।
बिजली बिल नहीं चुकाने के कारण हुआ ये हाल
बिजली बिल नहीं चुकाने के कारण कर्नाटक में 156, उत्तर प्रदेश में 132, पश्चिम बंगाल में 20 और तेलंगाना तथा हरियाणा में 13-13 टेलीफोन एक्सचेंज बेकार पड़े हैं। उत्तर प्रदेश के बाद महाराष्ट्र में सबसे अधिक 208 मोबाइल टावर, कर्नाटक में 120, तमिलनाडु में 111, तेलंगाना में 76, पश्चिम बंगाल में 50, मणिपुर में 36, जम्मू-कश्मीर में 19, गुजरात में 17, बिहार में 14 और असम तथा आंध्रप्रदेश में 111 टावर का कनेक्शन बिजली विभाग ने काट दिया है। हैरानी की बात तो ये है कि इसके बावजूद पिछले 2 वित्त वर्ष के दौरान बीएसएनएल की बाजार में हिस्सेदारी बढ़ी है। उसकी बाजार हिस्सेदारी 31 मार्च 2017 को 9.63 प्रतिशत थी, जो 31 मार्च 2018 को बढ़कर 10.26 प्रतिशत और 31 मार्च 2019 को 10.72 प्रतिशत हो गयी। वहीं मुंबई और दिल्ली में सहयोगी कंपनी एमटीएनएल की बाजार हिस्सेदारी घट रही है। यह 31 मार्च 2017 के 7.37 प्रतिशत से घटते हुए 31 मार्च 2018 को 7.16 प्रतिशत और 31 मार्च 2019 को 6.95 प्रतिशत पर आ गयी। एमटीएनएल सिर्फ मुंबई और दिल्ली में सेवाएं देती है।
बता दें कि एक बार मोबाइल टावर या टेलीफोन एक्सचेंज निष्क्रिय होने से उस इलाके में कंपनी की सेवाएं ठप हो जाती हैं और ग्राहक दूसरी दूरसंचार कंपनियों की सेवाएं लेने को विवश हो जाते हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

पीएम मोदी का यह ट्वीट बना साल का गोल्डन ट्वीट,मिले सबसे ज्यादा लाइक्स

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी साेशल मीडिया पर हमेशा छाए रहते हैं। टि्वटर पर मोदी को लाखों लोग फॉलो करते हैं और वो ट्विटर आगे पढ़ें »

नागालैंड के छात्र संगठन ने नागरिक संशोधन‌ बिल के विरोध में किया प्रदर्शन

कोहिमा : नागरिकता संशोधन विधेयक के खिलाफ नागालैंड में राजभवन के बाहर नगा स्टूडेंट्स फेडरेशन (एनएसएफ) के सदस्यों ने मंगलवार को प्रदर्शन किया। पूर्व एनईएसओ आगे पढ़ें »

ऊपर