ट्रंप के 36 घंटे के दौरे पर खर्च होंगे 100 करोड़, कांग्रेस परेशान

modi & trump

नई दिल्ली : अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के मात्र 36 घंटे के दौरे पर 100 करोड़ रुपये खर्च होंगे। कांग्रेस को इस पर बड़ा दु:ख हो रहा है। ट्रंप के स्वागत में खर्च हो रही रकम को लेकर कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने सवाल उठाया है। उनका कहना है कि क्या देश की जनता को यह जानने का अधिकार नहीं है कि जिस समिति के जरिए ट्रंप के स्वागत में पैसा खर्च किया जा रहा है उसे मंत्रालय ने कितने पैसे दिए हैं? प्रियंका ने ट्वीट के जरिए कहा कि इस समिति के जरिए ट्रंप के भारत दौरे पर करीब 100 करोड़ रुपये खर्च किए जा रहे हैं और समिति के सदस्य यह जानते ही नहीं कि वे समिति के सदस्य हैं। प्रियंका के इस सवाल पर भारतीय जनता पार्टी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने पलटवार करते हुए नसीहत दी है कि कांग्रेस को देश की उपलब्धियों पर गर्व करना सीखना चाहिए।’

सबसे पुराने लोकतंत्र से मिलेगा सबसे बड़ा लोकतंत्र

संबित पात्रा ने कांग्रेस पर हमला करते हुए कहा, ‘आज जब दुनिया में भारत के वैश्विक पद चिन्ह बढ़े हैं, ऐसे में कांग्रेस को यह शोभा नहीं देता कि वो नाखुश होकर केंद्र सरकार से सवाल-जवाब करे। हमारे लिए यह गर्व की बात होनी चाहिए कि व्हाइट हाउस के किसी भी निर्णय में आज भारत सामने या केंद्र में रहता है। ऐसे मौके काफी कम ही आते हैं जब हम अपनी राजनीतिक दल की पहचान को पीछे छोड़ एक देश के रूप में सामने आते हैं। यह ऐसा ही एक ऐतिहासिक मौका है जब दुनिया का सबसे पुराना लोकतांत्रिक राष्ट्र विश्व के सबसे बड़े लोकतांत्रिक देश से मिलेगा।’

यूपीए सरकार में ऐसे समझौतों की कल्पना करना भी मुश्किल

संबित पात्रा ने व्यापार समझौते पर हो रही देरी को लेकर कहा, ‘ जिस व्यापार समझौते और रक्षा समझौते को आज हम अमेरिका के साथ देख रहे है, यूपीए की सरकार में हम उसकी कल्पना तक नहीं कर सकते थे। क्या कभी यूपीए के शासन काल में 10 जनपथ ने डॉ मनमोहन सिंह को अपने समकक्षों के साथ ऐसे रिश्ते विकसित करने की अनुमति दी। राष्ट्रपति ट्रंप खुद कह चुके हैं कि भारत के साथ सौदेबाजी करना मुश्किल काम है, कांग्रेस पार्टी को भारत के हित की चिंता नहीं करनी चाहिए। कांग्रेस को सलाह होगी कि वे देश की उपलब्धियों पर गर्व करना सीखें।’

इतने खर्च के बावजूद समझौते से अमेरिका का इनकार

गौरतलब है कि ट्रंप के भारत दौरे पर हो रहे खर्च को लेकर प्रियंका गांधी द्वारा सवाल उठाए थे। उनके अलावा कांग्रेस नेता आनंद शर्मा ने पूछा था, ‘जनता के सामने यह सच आना चाहिए कि अहमदाबाद में ट्रंप के स्वागत के लिए पैसा कहां से आ रहा है।’ कांग्रेस ने ट्वीट किया, ‘ट्रंप के स्वागत में भारत इतना खर्च कर रहा है इसके बावजूद ट्रंप ने भारत के साथ व्यापार समझौते पर हस्ताक्षर करने से इनकार कर दिया है। ट्रंप ने कहा था कि मोदी के साथ उनकी अच्छी मित्रता है, लेकिन फिलहाल भारत के साथ व्यापार समझौता नहीं करेंगे।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

लोगों को मेरे खेल के खत्म होने के बारे में लिखने की आदत है, मुझे फर्क नहीं : सुशील

नयी दिल्ली : दिग्गज पहलवान सुशील कुमार उम्र के ऐसे पड़ाव पर है जहां ज्यादातर खिलाड़ी संन्यास की घोषणा कर देते है लेकिन ओलंपिक में आगे पढ़ें »

कोरोना से हुए नुकसान को कम करने के लिए सरकार जल्द नए राहत पैकेजों की घोषणा करेगी

नई दिल्ली : कोरोना के कारण हुए लॉक डाउन के कारण देश की अर्थव्यवस्था को काफी नुकसान हुआ है। वित्त मंत्रालय लगातार राहत पैकेज पर आगे पढ़ें »

ऊपर