हाई कोर्ट ने केंद्र को लगाई फटकार, कहा- आप अंधे हो सकते हैं, हम नहीं

नई दिल्ली: कोरोना की दूसरी लहर के बीच देश की राजधानी दिल्ली में ऑक्सीजन संकट अभी भी जारी है। ऐसे में मंगलवार को एक बार फिर इस मसले पर दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई हुई, जहां एक बार फिर अदालत ने केंद्र को कड़ी फटकार लगाई।
दरअसल, सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार के वकील ने कहा कि कोर्ट को बताया कि अभी भी हमें 590MT ऑक्सीजन नहीं मिल रही है, जिस कारण कई लोग मर रहे हैं। जब केंद्र सरकार से इसका जवाब मांगा गया तो उनकी तरफ से एएसजी ने कहा कि दिल्ली सरकार को इस तरह की बयानबाजी नहीं होनी चहिए। ये सुन हाई कोर्ट ने नाराजगी जताई और केंद्र को कड़ी फटकार लगाते हुए कहा, ‘यह बयानबाजी नहीं है। क्या यह सच नहीं है पर्याप्त ऑक्सीजन की सप्लाई नहीं हो रही है! आप इतने असंवेदनशील कैसे हो सकते हैं। आप अंधे हो सकते हैं, हम नहीं हैं।’
‘यह भावनात्मक मामला, लोगों की जा रही जान’
हालांकि इसके बाद भी केंद्र सरकार के वकील ने कहा कि भावनात्मक होने की जरूरत नहीं है,जिस पर दोबारा दिल्ली हाई कोर्ट ने नाराजगी जताई और कहा, ‘यह भावनात्मक मामला ही है, लोगों की जान जा रही है’ वहीं ऑक्सीजन को लेकर सेठ एयर ने कहा की उनकी मशीन समय से ज्यादा चल रही है, जिससे स्टाफ की कमी हो गई। यही वजह है कि कंपनी बंद होने के कगार पर है। कोर्ट से अपील है कि इस काम के लिए अर्धसैनिक बलों की तैनाती की जाए। इसके लिए दिल्ली सरकार के अधिकारियों को वहां जाकर रिपोर्ट पेश करनी चहिए।

शेयर करें

मुख्य समाचार

अस्पतालों में नहीं मिल रहे हैं डोम

युद्धस्तर पर हो रही हैं नियुक्तियां सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः राज्य में कोरोना वायरस के सेकेंड वेव ने स्वास्थ्य परिसेवा की स्थिति खराब सी कर दी है। आलम आगे पढ़ें »

दो श्मशान और एक कब्रिस्तान बना रही है कोलकाता नगर निगम

कोविड शवों की बढ़ती संख्या बढ़ा रही है प्रशासन की परेशानी सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : राज्य में कोरोना के मामले लगातार बढ़ते ही जा रहे है। इस आगे पढ़ें »

ऊपर