ऑटोरिक्‍शा से भी सस्ता हुआ हवाई जहाज

Fallback Image

नईदिल्ली : देश में हवाई जहाज का किराया ऑटो से भी सस्ता हो गया है। ये दावा किया है केंद्रीय विमानन राज्यमंत्री जयंत सिन्हा ने। गोरखपुर एयरपोर्ट के नए टर्मिनल भवन के लोकार्पण समारोह में सिन्हा ने सस्ता हवाई यात्रा का गणित समझाते हुए कहा कि वर्तमान में ऑटो का किराया 10 रुपये प्रति किलोमीटर है, जबकि विमान में सफर के लिए करीब चार रुपये प्रति किलोमीटर के हिसाब से ही किराया खर्च करना पड़ रहा है। उन्होंने कहा उत्तर प्रदेश के साथ ही पूरे देश में विमानन क्रांति की लहर चल रही है।

हवाई यात्रा प्रति 4 रुपये किलोमीटर
कार्यक्रम के दौरान बोलते हुए जयंत सिन्हा ने कहा कि आज हवाई यात्रा, ऑटो रिक्शा के सफर से भी सस्ती हो गई है। अब आप पूछेंगे कि यह कैसे संभव हो सकता है? दरअसल जब 2 लोग एक ऑटो रिक्शा लेते हैं, तो वह इसके 10 रुपए देते हैं। इसका मतलब है उनमें से प्रत्येक व्यक्ति ने 5 रुपए प्रति किलोमीटर के हिसाब से भुगतान किया है। लेकिन जब आप हवाई यात्रा करते हैं तो आपको 4 रुपए प्रति किलोमीटर के हिसाब से किराया लगता है।

सरकार हवाई यात्रा को दे रही बढ़ावा
जयंत सिन्हा ने कहा कि प्रति किलोमीटर के हिसाब से ऑटो रिक्शा और हवाई किराए की तुलना करने का मकसद सिर्फ यह बताना है कि हमारे देश में हवाई किराया दुनिया के अन्य देशों की तुलना में काफी कम है। सिन्हा ने कहा कि मैं ये नहीं कह रहा हूं कि लोग कम दूरी के लिए भी हवाई यात्रा करने लगें, बल्कि ये तुलना सिर्फ उदाहरण के तौर पर की गई है। उल्लेखनीय है कि जयंत सिन्हा इससे पहले भी भारत में हवाई किराए के काफी कम होने को लेकर बयान दे चुके हैं। नागरिक उड्डयन मंत्री ने आगे कहा कि सरकार हवाई यात्रा को बढ़ावा देना चाहती है। सरकार की कोशिश है कि आने वाले सालों में हवाई यात्रियों की संख्या मौजूदा संख्या पांच गुना बढ़ाने का लक्ष्य तय किया गया है।

मालूम हो कि सरकार ज्यादा से ज्यादा लोगों को हवाई सेवाओं के साथ जोड़ना चाहती है। यही वजह है कि सरकार हवाई किराए को आम आदमी के बजट में लाने का प्रयास कर रही है। इसके तहत सरकार कई शहरों में हवाई अड्डों को निर्माण कर रही है, वहीं घरेलू उड़ानों को प्रोत्साहन दे रही है। केन्द्रीय राज्यमंत्री जयंत सिन्हा के बयान को भी सरकार की इन्हीं कोशिशों से जोड़कर देखा जा रहा है। सरकार ने एविएशन के फील्ड में 100 प्रतिशत एफडीआई की अनुमति भी दे दी है। उल्लेखनीय है कि देश में पिछले 4 सालों के दौरान 6 करोड़ हवाई यात्री बढ़े हैं। अब यह आंकड़ा 20 करोड़ तक पहुंच गया है और सरकार की कोशिश इसे आने वाले सालों में 100 करोड़ तक ले जाने की है।



शेयर करें

मुख्य समाचार

सीएए और एनआरसी को लेकर मेयर ने बोला हमला

सन्मार्ग संवाददाता कोलकाता : मेयर और मंत्री फिरहाद हकीम ने सीएए और एनआरसी को लेकर एक बार फिर केंद्र सरकार पर हमला बोला। रविवार को रक्तदान आगे पढ़ें »

ईस्ट वेस्ट मेट्रोः इस महीने शुरु होने की उम्मीदें बढ़ीं

नए जीएम ने मेट्रो परियोजना का किया निरीक्षण सन्मार्ग संवाददाता कोलकाताः साल्टलेक स्टेडियम से साल्टलेक सेक्टर-5 तक मेट्रो परियोजना के शुरू होने की उम्मीदें एक बार फिर आगे पढ़ें »

ऊपर