हजारों किसानों व श्रमिकों ने निकाली रैली

नयी दिल्लीः स्वामीनाथन आयोग की सिफारिशों के तहत कृषि उत्पादों के लिए लाभकारी कीमत देने, ऋण माफी और न्यूनतम वेतन प्रति माह 18,000 रुपये से कम नहीं दिये जाने की मांग को लेकर वामपंथी किसान और मजदूर संगठनों द्वारा आयोजित ‘मजदूर किसान संघर्ष रैली’ के तहत हजारों किसानों और श्रमिकों ने बुधवार को रामलीला मैदान से संसद मार्ग तक मार्च निकाला।
पूरे देश से आये लोगों ने अपने हाथों में लाल झंडा और केंद्र सरकार की नीतियों के खिलाफ नारेबाजी की। ट्रेड यूनियन और किसान संगठनों के नेताओं ने संसद मार्ग पर रैली को संबोधित किया।

किसानों की रैली के कारण लुटियन में यातायात प्रभावित हुआ।

दिल्ली यातायात पुलिस ने ट्विटर पर बताया कि संसद मार्ग, जनपथ और केजी मार्ग को यातायात के लिए बंद कर दिया गया था जिसके चलते मोटर सवारों के वैकल्पिक मार्गों से जाने के कारण उस पर दबाव रहा। मोटर सवारों के अशोक रोड और बाबा खड्ग सिंह मार्ग इस्तेमाल करने के कारण यहां यातायात प्रभावित हुआ।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टाला ब्रिज पर डायवर्सन के कारण 100 मिनी बसें चलाएगा परिवहन विभाग

वाहनों के डायवर्सन से यात्रियों को नहीं होगी समस्याः शुभेन्दु अधिकारी कोलकाताः टाला ब्रिज पर बस व भारी वाहनों की पाबंदी के बाद बड़े पैमाने पर आगे पढ़ें »

बीजीबी की कार्रवाई बेवजह, हमने नहीं चलाई एक भी गोलीः बीएसएफ

मुर्शिदाबादः बॉर्डर गार्ड बांग्लादेश (बीजीबी) के जवानों ने बीएसएफ के जवान को लक्ष्य कर जानबूझकर चलायी थी गोली। यह मानना है सीमा पर तैनात बीएसएफ आगे पढ़ें »

ऊपर