स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में नई तकनीक का करें इस्तेमाल : प्रधानमंत्री मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को टेलीमेडिसिन क्षेत्र में हुई तरक्की, स्वास्थ्य सेवा में ‘मेक इन इंडिया’ उत्पादों का उपयोग और एक स्वस्थ समाज के लिए चिकित्सा क्षेत्र में आईटी उपकरणों के उपयोग पर चर्चा का आह्वान किया। बेंगलुरु के राजीव गांधी स्वास्थ्य विश्वविद्यालय के एक समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए संबोधित करते हुए उन्होंने इस बात पर चर्चा की पैरवी की कि क्या ऐसे नए मॉडलों की कल्पना की जा सकती है जो टेलीमेडिसिन को बड़े पैमाने पर लोकप्रिय बना सकें। ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में शुरुआती मुनाफे से उनमें उम्मीद जगी है। उन्होंने कहा, ‘ हमारे घरेलू निर्माताओं ने निजी सुरक्षा उपकरणों (पीपीई) का उत्पादन शुरू कर दिया है और कोविड-19 से निपटने के लिए अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों को करीब एक करोड़ पीपीई की आपूर्ति की गई है।’ मोदी ने कहा कि स्वस्थ समाज के लिए आईटी से संबंधित उपकरण बहुत मदद कर सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘ मुझे यकीन है कि आपने आरोग्य सेतु एप के बारे में सुना होगा। स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करीब 12 करोड़ लोगों ने उसे डाउनलोड किया है। कोरोना वायरस से लड़ने में इससे काफी मदद मिली है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

बहू के प्यार में अंधे ससुर ने किया यह काम…

उत्तर प्रदेश : यूपी के कासगंज ज‍िले में रिश्तों को कलंकित करने वाली एक सनसनीखेज घटना सामने आई है जिसमें पिता और पुत्र, ससुर और आगे पढ़ें »

विधानसभा गेट के सामने दारोगा ने खुद को मारी गोली

लखनऊ : यूपी की राजधानी लखनऊ में विधानसभा के गेट के सामने एक सब इंस्पेक्टर ने खुद को गोली मारकर आत्महत्या कर ली। एसआई ने आगे पढ़ें »

ऊपर