स्वास्थ्य देखभाल क्षेत्र में नई तकनीक का करें इस्तेमाल : प्रधानमंत्री मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने सोमवार को टेलीमेडिसिन क्षेत्र में हुई तरक्की, स्वास्थ्य सेवा में ‘मेक इन इंडिया’ उत्पादों का उपयोग और एक स्वस्थ समाज के लिए चिकित्सा क्षेत्र में आईटी उपकरणों के उपयोग पर चर्चा का आह्वान किया। बेंगलुरु के राजीव गांधी स्वास्थ्य विश्वविद्यालय के एक समारोह को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए संबोधित करते हुए उन्होंने इस बात पर चर्चा की पैरवी की कि क्या ऐसे नए मॉडलों की कल्पना की जा सकती है जो टेलीमेडिसिन को बड़े पैमाने पर लोकप्रिय बना सकें। ‘मेक इन इंडिया’ कार्यक्रम का जिक्र करते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र में शुरुआती मुनाफे से उनमें उम्मीद जगी है। उन्होंने कहा, ‘ हमारे घरेलू निर्माताओं ने निजी सुरक्षा उपकरणों (पीपीई) का उत्पादन शुरू कर दिया है और कोविड-19 से निपटने के लिए अग्रिम मोर्चे पर तैनात कर्मियों को करीब एक करोड़ पीपीई की आपूर्ति की गई है।’ मोदी ने कहा कि स्वस्थ समाज के लिए आईटी से संबंधित उपकरण बहुत मदद कर सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘ मुझे यकीन है कि आपने आरोग्य सेतु एप के बारे में सुना होगा। स्वास्थ्य के प्रति जागरूक करीब 12 करोड़ लोगों ने उसे डाउनलोड किया है। कोरोना वायरस से लड़ने में इससे काफी मदद मिली है।’

शेयर करें

मुख्य समाचार

महबूबा का बड़ा बयान, कहा: ‘370 की बहाली होने तक नहीं लड़ूंगी कोई चुनाव’

श्रीनगर: जम्मू-कश्मीर की पूर्व मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधा है। महबूबा ने कहा कि आज बिहार में वोट बैंक के आगे पढ़ें »

चौतरफा दबाव से बौखलाया चीन

-भारत-अमेरिका से बढ़ते तनाव के बीच चीनी राष्ट्रपति ने दिया बयान - जिनपिंग ने कहा चीन की संप्रभुता पर हम खामोश नहीं बैठेंगे बीजिंग: चीन के खिलाफ आगे पढ़ें »

ऊपर