सीवीसी क्यों नहीं चला पा रहा 79 कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार का मुकदमा ?

नयी दिल्ली : केंद्रीय सतर्कता आयोग (सीवीसी) चाहकर भी केंद्र सरकार के 79 कर्मचारियों पर भ्रष्टाचार का मुकदमा नहीं चला पा रहा है। इसका बड़ा कारण उसे पिछले चार महीने से ज्यादा समय से सरकारी मंजूरी मिलने में हो रही देरी है। इन कर्मचारियों में एक भारतीय प्रशासनिक सेवा (आईएएस) का अधिकारी भी शामिल है।

विभागों की मंजूरी का इंतजार

एक वरिष्ठ सीवीसी अधिकारी ने कहा, ” इन मामलों पर चार महीने से ज्यादा समय बीत जाने से मंजूरी नहीं दी गई है। हमने इन अनुरोधों पर तेजी से काम करने के लिए सरकारी विभागों और बैंकों को रिमाइंडर भेजा है।” सीवीसी के ताजा आंकड़ों के अनुसार, कुल 41 मामले लंबित हैं, जिनमें आयोग को मुकदमा चलाने के लिए संबंधित सरकारी विभागों की मंजूरी का इंतजार है। सबसे ज्यादा नौ मामले कार्मिक मंत्रालय के पास मंजूरी के लिए लंबित पड़े हैं। कार्मिक मंत्रालय केंद्रीय कर्मचारियों के भ्रष्टाचार – रोधी मामलों में कार्रवाई करने का नोडल विभाग है। उत्तर प्रदेश सरकार के पास आठ मामले लंबित पड़े हैं।

इन मामलों में बैंकों के 13 कर्मचारी शामिल

आंकड़ों के मुताबिक, भारतीय स्टेट बैंक, केनरा बैंक, कॉर्पोरेशन बैंक और आईडीबीआई बैंक के पास चार मामले लंबित पड़े हैं। इन मामलों में बैंकों के 13 कर्मचारी शामिल हैं। इसी तरह भ्रष्ट कर्मचारियों से जुड़े तीन मामले केंद्र शासित प्रदेशों के पास लंबित हैं जबकि रक्षा मंत्रालय, खाद्य एवं आपूर्ति मंत्रालय, स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण और शहरी विकास एवं गरीबी उन्मूलन मंत्रालय के पास दो – दो मामले मंजूरी के लिए पड़े हैं। बता दें कि नियमों के मुताबिक, मुकदमे चलाने के लिए चार महीने के भीतर फैसला लेना होता है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राज्यसभा सांसद एम.पी वीरेंद्र कुमार का निधन

कोझिकोड :राज्यसभा सांसद एवं अग्रणी मलयालम दैनिक ‘मातृभूमि’ के प्रबंध निदेशक एम पी वीरेंद्र कुमार का हृदयाघात के कारण गुरुवार देर रात यहां निधन हो आगे पढ़ें »

श्रमिक ट्रेन: रेलवे ने पहले से बीमार लोगों, गर्भवती महिलाओं से यात्रा नहीं करने की अपील की

नयी दिल्ली : श्रमिक विशेष ट्रेनों में लोगों की मौत की खबरों के मद्देनजर भारतीय रेलवे ने शुक्रवार को लोगों से अपील की कि यदि आगे पढ़ें »

रोहित की दबाव झेलने की क्षमता ने उसे सबसे सफल आईपीएल कप्तान बनाया : लक्ष्मण

प्रधानमंत्री मोदी और ट्रम्प के बीच हाल में कोई बातचीत नहीं हुई : सरकारी सूत्र

पश्चिम बंगाल में मंत्री कोरोना वायरस से संक्रमित

शतरंज पर नहीं पड़ा कोविड-19 का असर, अन्य खेल ठप पड़े

भारत को दो विश्व कप जिताने वाले कप्तान ने कहा, पद्म श्री नहीं, सरकारी नौकरी चाहिए

गेंदबाजी कोच भरत अरूण ने कहा- गेंद को चमकाने के लिए लार के इस्तेमाल की आदत को छोड़ना मुश्किल

भारत- ऑस्ट्रेलिया टेस्ट सीरीज की तारीख का ऐलान, टीम इंडिया विदेश में अपना पहला डे-नाइट टेस्ट मैच एडिलेड में खेलेगी

टेलीकॉम कंपनी वोडाफोन आईडिया में निवेश कर सकती है गूगल

ऊपर