सीबीएसई पेपर लीक मामले में हिमाचल से 3 शिक्षक गिरफ्तार, खुल सकते हैं कई राज

नई दिल्लीः केंद्रीय माध्यमिक बोर्ड (सीबीएसई) की 12वीं के अर्थशास्‍त्र विषय की परीक्षा प्रश्नपत्र लीक मामले में दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच ने एक शिक्षक, क्लर्क और स्कूल स्टाफ को गिरफ्तार किया है। शिक्षक का नाम राकेश, क्लर्क का नाम अमित और तीसरा आरोपी एक चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी है। परीक्षा के दौरान शिक्षक अशोक सेंटर का सुप्रीन्टेंडेंट था। पुलिस ने इन तीनों को हिमाचल के ऊना जिले से गिरफ्तार किया है।
इन सभी पर आरोप है कि इन्होंने प्रश्नपत्र लीक किया था और इन्होंने हाथों से लिखा पेपर लीक किया था। अर्थशास्त्र का पेपर दो दिन पहले लीक हो गया था। हालांकि आरोपों की पुष्टि होनी बाकी है। माना जा रहा है कि तीनों से पूछताछ में महत्वपूर्ण जानकारी सामने आ सकती है, जो जांच को अंजाम तक पहुंचाएगी। यहां पर याद दिला दें कि पिछले महीने की 26 मार्च को 12वीं कक्षा की अर्थशास्त्र की परीक्षा हुई थी, लेकिन प्रश्नपत्र लीक होने के कारण सीबीएसई ने परीक्षा रद्द
इससे पहले पिछले सप्ताह शनिवार को क्राइम ब्रांच के मुताबिक आरोपियों की पहचान निजी स्कूल के शिक्षकों ऋषभ और रोहित के तौर पर की गई है, जबकि तौकीर नाम का तीसरा आरोपी बवाना में एक कोचिंग सेंटर में ट्यूटर है। पुलिस ने ट्यूटर और दो शिक्षकों को शनिवार को हिरासत में ले लिया था। वहीं, सीबीएसई ने पेपर लीक मामले में अर्थशास्त्र परीक्षा की नई तारीख का ऐलान कर दिया है। 12वीं के अर्थशास्त्र विषय की परीक्षा 25 अप्रैल को आयोजित की जाएगी।
गौरतलब है कि कांग्रेस के वरिष्ठ नेता शशि थरूर ने दो दिन पहले मानव संसाधन विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर से ‘अनुकंपा के आधार पर’ अर्थशास्त्र विषय की पुन: परीक्षा से सीबीएसई की कक्षा 12 वीं के छात्रों को छूट दिए जाने का आग्रह किया था। फिलहाल, पुलिस मामले में छानबीन कर रही है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

किडनी की समस्या का आयुर्वेद में है इलाज, पढ़ें

नई दिल्ली : किडनी शरीर का महत्वपूर्ण अंग है और फिल्टर माना जाता हैं, यह हमारे शरीर में मौजूद टॉक्सिन को बाहर निकालने का काम आगे पढ़ें »

germany

जर्मनी के पूर्व राष्ट्रपति के बेटे की चाकू से की हत्या

बर्लिन : जर्मनी के पूर्व राष्ट्रपति रिचर्ड फोन के बेटे की चाकू घोंपकर हत्या कर दी गयी। बर्लिन शहर में एक अस्पताल में घुसकर हमलावर आगे पढ़ें »

ऊपर