सरहद पर 9वें दिन भी गोलीबारी, 5 लोगों ने गंवाई जान, 40 हजार लोग पलायन को मजबूर

जम्मूः जम्मू के कठुआ और सांबा जिलों में पाकिस्तान की ओर से लगातार 9वें दिन भी गोलीबारी जारी रखा। अंतरराष्ट्रीय सीमा से लगे भारत के इन गांवों व सीमा चौकियों पर बुधवार को गोली लगने से 5 लोगों की मौत हो गई जबकि 9 घायल हो गए। इससे पहले पाकिस्तान की सैनिकों ने जम्मू के आरएस पुरा, अरनिया, बिस्नाह और रामगढ़ तथा सांबा सेक्टरों पर बीती रात भी गोलीबारी की थी। बुधवार सुबह कठुआ जिले से हीरानगर में सीमा पार से फायरिंग शुरू हुई थी। इस दौरान पाकिस्तान ने बीएसएफ की करीब 40 पोस्टों को निशाना बनाया है।
पुलिस के मुताबिक पाकिस्तान की ओर से रातभर हीरानगर, सांबा, रामगढ़, अरनिया और आरएसपुरा सेक्टर में गोलीबारी की गई। अंतरराष्ट्रीय सीमा के 5 किमी. के आसपास सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूलों को बंद किया गया है। लगातार फायरिंग को देखते हुए आरएसपुरा, अरनिया और सांबा सेक्टर में और अधिक बुलेटप्रूफ वाहनों को भेजा गया है। पाकिस्तान 82एमएम के मोर्टार दाग रहा है।
40 हजार लोग पलायन को मजबूर
पाकिस्तानी रेंजर्स द्वारा जम्मू, सांबा और कठुआ जिलों में सैन्य और असैन्य ठिकानों पर लगातार की जा रही गोलीबारी और बमबारी के कारण सीमावर्ती गावों से 40,000 से अधिक लोगों को अपने घर छोड़कर सुरक्षित स्थानों की ओर पलायन करने पर मजबूर है। पुलिस ने बताया कि कुछ लोगों ने प्रशासन द्वारा बनाए गए अस्थाई शिविरों में शरण ली है, जबकि अधिकांश अन्य अपने रिश्तेदारों और दोस्तों के घर में शरण लेने के लिए मजबूर हुए हैं। इससे पहले मंगलवार को भी पाकिस्तान ने सीमा पार से मोर्टार दागे और एलओसी से सटे अरनिया व आरएस पुरा सेक्टर के रिहाइशों इलाकों को निशाना बनाया।

शेयर करें

मुख्य समाचार

ऊपर