दिल्‍ली में दिनदहाड़े एनकाउंटर, पुलिस ने 3 बदमाशों को घायल कर पांच को दबोचे

नयी दिल्ली : पिछले दस दिनों राष्‍ट्रीय राजधानी की सड़कों पर हुए गैंगवार की घटना ने दिल्‍लीवासियों को दहला दिया था। पर कानून का राज स्‍थापित करते हुए दिल्‍ली पुलिस ने सनसनी फैलाने वाले गैंग को सोमवार सुबह रोहिणी इलाके में घेर लिया। पुलिस का दावा है कि इस दौरान दोनों तरफ से गोलियां चलीं। जिसमें तीन बदमाशों के पांव में गोली लगी, जिन्हें अस्पताल पहुंचा गया है। उनकी हालत में सुधार है। इस मुठभेड़ में दो पुलिसकर्मियों की बुलेटप्रूफ जैकेट पर भी गोलियां लगीं। पुलिस ने मौके से पांच बदमाश को धड़ दबोचा। बदमाशों के पास से पांच लोडेड पिस्टल ब्‍रामद हुए है। अभियुक्‍तों में एक 17 साल का किशोर भी है, जो कई घटनाओं में अपने गैंग के साथ मौजूद रहा है। उल्‍लेखनीय है कि यह एनकाउंटर सुबह 5 बजे रोहिणी के सेक्टर-10 में स्वर्ण जयंती पार्क के पास हुआ। स्पेशल सेल के डीसीपी संजीव यादव ने बताया कि चार आरोपी हरियाणा के रहने वाले हैं। उनकी पहचान रोहतक निवासी सुनील उर्फ भूरा (21), भिवानी जिले के सुखविंद्र उर्फ संजू (24), सोनीपत के रवींद्र (34) और बहादुरगढ़ के अर्पित छिल्लर (20) के तौर पर हुई है। पांचवां आरोपी नाबालिग है। वह दिल्ली के बवाना इलाके का रहने वाला है। घायल बदमाशों का पुलिस निगरानी में इलाज चल रहा है। पांचों गैंगस्टर मोनू और सोनू गैंग से जुड़े हैं। मोनू-सोनू जेल में बंद नीरज बवानिया की गैंग के सक्रिय सदस्‍य हैं। डीसीपी ने बताया कि दिल्ली में राजेश बवाना और हैपी गैंग के बीच कुछ समय से गैंगवॉर चल रही है। इसी चलते मोनू-सोनू गैंग ने 20 जनवरी और 1 फरवरी को दो मर्डर किए। मुठभेड़ में जिन पुलिसकर्मियों की बुलेटप्रूफ जैकेट पर गोली लगी, उनके नाम हवलदार भारत और सिपाही मनजीत हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टॉस विवाद पर बोले संगकारा- मैं जीता था लेकिन धोनी आवाज नहीं सुन पाए तो दोबारा सिक्का उछाला गया

नयी दिल्‍ली : भारत-श्रीलंका के बीच 2011 वर्ल्ड कप फाइनल में दोबारा टॉस कराने के मामले में अब जाकर श्रीलंका के पूर्व कप्तान कुमार संगकारा आगे पढ़ें »

ईसीबी ने 55 खिलाड़ियों को अभ्यास शुरू करने को कहा

लंदन : विश्व कप विजेता कप्तान इयोन मोर्गन और टेस्ट टीम के कप्तान जो रुट के अलावा इंग्लैंड एवं वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) ने 55 आगे पढ़ें »

ऊपर