ऐलानः बसपा किसी राज्य में कांग्रेस से नहीं करेगी गठबंधन

लखनऊः उत्तर प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री और बसपा प्रमुख मायावती ने बड़ा बयान देते हुए ऐलान किया है कि वह किसी भी राज्य में कांग्रेस से गठबंधन नहीं करेगी। उत्तर प्रदेश में बसपा और सपा एक साथ मिलकर चुनाव लड़ेंगे। रिपोर्ट के अनुसार, बहुजन समाज पार्टी अन्य राज्यों में छोटे दलों को अपने साथ लाएगी और चुनाव लड़ेगी। मायावती का साफ कहना है कि कुछ दल बसपा से गठबंधन करने को आतुर हैं, लेकिन थोड़े से चुनावी लाभ के लिए वह ऐसा नहीं करेंगे। बयान में कहा गया है कि हालात बदलते हुए देर नहीं लगती है, ऐसे में बसपा अपने कैडर को मजबूत करेगी और लोकसभा चुनाव में लड़ेगी।
आपको बता दें कि समाजवादी पार्टी-बहुजन समाज पार्टी उत्तर प्रदेश में एक साथ लोकसभा चुनाव लड़ रहे हैं। हाल ही में ऐसी खबरें भी थी कि इस गठबंधन में कांग्रेस को भी जगह मिल सकती है और दोनों पार्टियां कांग्रेस को 15 सीटें दे सकती हैं।लेकिन मायावती के इस बयान से साफ है कि कांग्रेस के साथ गठबंधन के मूड में नहीं हैं। हालांकि, सपा-बसपा ने अमेठी और रायबरेली की सीट कांग्रेस को छोड़ दी है, यहां से राहुल गांधी और सोनिया गांधी चुनाव लड़ते हैं।
दूसरी ओर कांग्रेस ने भी इसका जवाब ऐसे ही दिया है। खबर है कि जिन सीटों पर मायावती या अखिलेश के परिवार के सदस्य चुनाव लड़ेंगे ऐसी 6 सीटों पर कांग्रेस भी अपना उम्मीदवार खड़ा नहीं करेगी। कांग्रेस ने अभी तक अपने 11 उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया है, जबकि समाजवादी पार्टी की ओर से भी कई सीटों पर अपने उम्मीदवारों का ऐलान कर दिया जा चुका है।
गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश की कुल 80 लोकसभा सीटों पर सपा 37, बसपा 38 सीटों पर चुनाव लड़ रही है जबकि, तीन सीटें रालोद को दी गई हैं।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में सब कुछ खोलने की घोषणा

कोलकाता :कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के ​लिए लागू लॉकडाउन के 66वें दिन शुक्रवार को बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने कहा राज्य में 1 आगे पढ़ें »

बढ़ सकता है लॉकडाउन 15 दिन और

नयी दिल्ली : कोरोना वायरस संक्रमण से बचाव के लिए लागू लॉकडाउन के 66वें दिन शुक्रवार को गोवा के मुख्यमंत्री सावंत ने कहा कि सरकार आगे पढ़ें »

ऊपर