सुरक्षाबलों ने जैश-ए-मोहम्मद के 2 आतंकियों को किया ढेर

श्रीनगर: पाकिस्तान से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा और नियंत्रण रेखा पर बढ़ते तनाव के बीच जम्मू-कश्मीर में मुठभेड़ के दौरान सुरक्षाबलों को बड़ी कामयाबी मिली है। कश्मीर घाटी के शोपियां जिले में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच बुधवार सुबह से चल रही मुठभेड़ में दो आतंकी मार गिराए गए हैं। मारे गए दोनों आतंकियों का संबंध आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद से था। बता दें कि पुलवामा हमले में भी जैश का नाम सामने आया था। अधिकारियों ने बताया कि सुरक्षा बलों ने आतंकवादियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद शोपियां जिले के मीमेन्दर इलाके में खोज एवं तलाशी अभियान चलाया। उन्होंने बताया कि अभियान के दौरान आतंकवादियों ने उनपर गोलियां चलाईं। जवाबी कार्रवाई के साथ ही मुठभेड़ शुरू हो गई। मुठभेड़ में दो आतंकवादी मारे गए हैं। अधिकारियों ने बताया कि मारे गए दोनों आतंकवादी प्रतिबंधित संगठन जैश-ए-मोहम्मद के सदस्य थे। उन्होंने बताया कि घटनास्‍थल पर मौके से हथियार और अन्य विस्फोटक सामान मिला बरामद हुआ है।
भारतीय सेना ने ध्वस्त की पाक कि 5 चौकियां
भारतीय वायुसेना के सीमापार कार्यवाही के बाद से बौखलाए पाकिस्तान ने नियंत्रण रेखा पर गोलीबारी की। जवाबी कार्रवाई में भारतीय सेना ने पाकिस्तान की 5 चौकियों को ध्वस्त कर दी हैं। इस कार्रवाई में पाकिस्तान के कई सैनिक घायल हुए हैं। एक रक्षा अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि भारतीय सेना की जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान की तकरीबन 5 चौकियों को गंभीर नुकसान पहुंचा है। अधिकारी ने बताया कि पाकिस्तानी सेना को आम नागरिकों के घरों से मॉर्टार और मिसाइलें दागते देखा गया है।
एयर स्ट्राइक से घबराया पाकिस्तान
बता दें कि मंगलवार सुबह भारतीय वायुसेना के लड़ाकू मिराज विमानों ने पाकिस्तान के बालाकोट और पाक अधिकृत कश्मीर के मुजफ्फराबाद और चकोटी में आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद के कैंपों को ध्वस्त कर दिया। सूत्रों के मुताबिक इसमें जैश के कई टॉप कमांडर समेत तकरीबन 300 आतंकी मारे गए हैं। 1971 के युद्ध के बाद ऐसा पहली बार है कि भारत ने नियंत्रण रेखा के पार जाते हुए एयर स्ट्राइक की है। 14 फरवरी को पुलवामा में हुए आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे।

शेयर करें

मुख्य समाचार

टोक्‍यों ओलंपिक में खिलाड़ियों का पूरा समर्थन करेगा देश : कोविंद

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने शनिवार को कहा कि 24 जुलाई से नौ अगस्त तक आयोजित 2020 टोक्यो ओलंपिक में देश का प्रतिनिधित्व आगे पढ़ें »

बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी पहुंचीं जयपुर साहित्य महोत्सव में, लेखन चुनौतियों का जिक्र किया

जयपुरः ओमान की लेखिका एवं बुकर पुरस्कार विजेता जोखा अल हार्सी के लिए लेखन का सबसे दिलचस्प और चुनौतीपूर्ण पहलू समाज में मौजूद अनसुनी और आगे पढ़ें »

ऊपर