शाह ने राज्यों के नेताओं की बुलाई बैठक, संगठन में चुनावों को लेकर हो सकती है चर्चा

नई दिल्ली : लोकसभा चुनाव के बाद प्रचंड बहुमत से जीतकर आई भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) में अब मौजूदा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के विकल्प के तलाश की कवायद शुरू हो गई है। पार्टी की एक व्यक्ति एक पद के सिद्धांत के अनुसार शाह के गृह मंत्री बनने  के बाद किसी नए चेहरे को यह पद दिया जा सकता है। शाह ने इसके लिए 13 और 14 जून को दिल्ली में राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के प्रमुख नेताओं की बैठक बुलाई है। बैठक के दौरान संगठन में चुनावों को लेकर चर्चा की जायेगी।
कुछ राज्यों में टल सकता है संगठन चुनाव
भाजपा के एक वरिष्ठ नेता की मानें तो दिल्ली में होने वाली पार्टी बैठक में संगठन मंत्रियों को बुलावा भेजा गया है। संगठन स्तर पर सभी राज्य ईकाईयों में पार्टी के आतंरिक चुनाव होंगे। उनके अनुसार कुछ राज्यों जैसे महाराष्ट्र, हरियाणा और झारखंड में जल्द ही विधानसभा चुनाव होने हैं इसे देखते हुए इन राज्यों में पार्टी के आंतरिक चुुनाव को टाला जा सकता है।
संगठन का पुनर्गठन होना है
भाजपा ने एक बार फिर राष्ट्रीय स्तर पर सदस्यता अभियान चलाने का भी फैसला किया है।  पार्टी सूत्रों की मानें तो नए राष्ट्रीय अध्यक्ष के चयन से पहले यह प्रक्रिया को पूरी कि जायेगी। सूत्रों का यह भी कहना है कि संगठन का पुनर्गठन होना है। यह बदलाव बूथ स्तर से लेकर राष्ट्रीय अध्यक्ष तक होगा। उनका कहना है कि जहां अध्यक्ष पद के लिए राज्य कार्यकारिणी सदस्य चुनाव में शामिल होंगे इसके बाद फिर राष्ट्रीय कार्यकारिणी के नेता राष्ट्रीय अध्यक्ष का चयन करेंगे। अक्सर प्रदेश अध्यक्षों और राष्ट्रीय अध्यक्ष के चुनाव आम सहमति से ही होते हैं।
नड्डा का नाम सबसे आगे
पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष के रूप में अमित शाह के विकल्प के तौर पर जिन नेताओं के नाम सामने आ रहे हैं उनमें पूर्व केंद्रीय मंत्री जेपी नड्डा का नाम सबसे आगे बताया जा रहा है। दूसरी ओर इस बात की भी चर्चा है कि शाह राष्ट्रीय अध्यक्ष के पद पर बने रह सकते हैं। हालांकि उनकी मदद के लिए किसी नेता को कार्यकारी अध्यक्ष बनाया जा सकता है।

गौरतलब है कि शाह का तीन वर्षीय कार्यकाल इस साल की शुरुआत में ही समाप्त हो गया था। लोकसभा चुनाव को देखते हुए शाह का कार्यकाल  6 महीने के लिए बढ़ा दिया गया था। हालांकि तमाम अटकलों के बीच आधिकारिक तौर पर भाजपा की ओर से इस विषय पर किसी तरह की टिप्पणी नहीं की गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

माता पिता के साथ हुए नस्ली भेदभाव की बात करते रो पड़े होल्डिंग

साउथम्पटन : वेस्टइंडीज के अपने जमाने के दिग्गज गेंदबाज माइकल होल्डिंग नस्लवाद पर दमदार भाषण देने के एक दिन बाद सीधे प्रसारण के दौरान अपने आगे पढ़ें »

शाहरुख ने मुझे गंभीर जैसी आजादी नहीं दी : गांगुली

नयी दिल्‍ली : मौजूदा बीसीसीआई अध्यक्ष और टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने कोलकाता नाइट राइडर्स (केकेआर) के को-ओनर शाहरुख खान को लेकर आगे पढ़ें »

ऊपर