अमित शाह वहां भी पूल बनाने का वादा कर देते हैं, जहां नदी नहीं होतीः शत्रुघ्न सिन्हा

नई दिल्लीः भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) से नाराज चले रहे नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने शनिवार को आखिरकार पार्टी से नाता तोड़ ही लिया। उन्होंने कांग्रेस से हाथ मिला लिया है। इस दौरान उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और भाजपा अध्यक्ष अमित शाह को आड़े हाथ लिया।
अमित शाह के वादों पर शत्रुघ्न सिन्हा ने भोजपुरी में वार किया। उन्होंने कहा कि वह आपको कहेंगे ‘यहां नदियों नाही हुजूर तो कउनो बात नाही, पुलिया ले ला नदिया के का बा। नदिया तो कभियो आई कभियो जाई, नदिया तो टेंपरोरी रही पुलिया तो परमानेंट रही ना। रख ला पुल और बन जा फूल एक तरह से।’
दरअसल शत्रुघ्न सिन्हा ने बोला उसका मतलब है कि अमित शाह तो बड़े-बड़े वादे करते हैं। वह तो वहां भी पुल बनाने का वादा कर देते हैं, जहां नदी नहीं होती है।
अपने विरोधी को दुश्मन समझा जाता है
बीजेपी पर अपनी भड़ास निकालते हुए शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि एक तो मौजूदा सरकार ने कोई ढंग का काम नहीं किया और जब उनसे काम के बारे में पूछा जाता है तो जवाब में थेथरई की जाती है. शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि मौजूदा बीजेपी में विरोधियों को दुश्मन की नजर से देखा जाने लगा है जबकि आडवाणी ने कहा है कि आपका राजनीतिक विरोधी आपका दुश्मन नहीं होता है। वह भी देश के हित में ही बात करता है।
‘मैंने लोक शाही को धीरे-धीरे तानाशाही में परिवर्तित होते देखा है’
कांग्रेस में शामिल होने के बाद शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि नवरात्र के मौके पर वे कांग्रेस में शामिल हुए हैं और इस मौके पर कांग्रेस नेतृत्व का आभार व्यक्त करते हैं। सिन्हा ने इस मौके पर अपनी राजनीतिक जीवन यात्रा में शामिल सभी लोगों को शुभकामनाएं दी। शत्रुघ्न सिन्हा ने नरेंद्र मोदी, अमित शाह पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी में उन्होंने लोक शाही को धीरे-धीरे तानाशाही में परिवर्तित होते देखा। सिन्हा ने कहा कि मौजूदा बीजेपी नेतृत्व ने यशवंत सिन्हा, मुरली मनोहर जोशी, अरुण शौरी जैसे कद्दावर शख्सियतों को निपटा दिया गया।
टिकट नहीं मिलने पर पूछे, मुझ में क्या कमी थी…
शत्रुघ्न सिन्हा ने इस मौके पर अपने दिल में दबे दर्द को भी बयां किया। शत्रुघ्न सिन्हा ने पूछा कि आखिर बीजेपी सरकार में उन्हें मंत्री क्यों नहीं बनाया गया। उन्होंने कहा कि क्या उनके अंदर काबिलियत नहीं। उनके अंदर क्या कमी थी। शत्रुघ्न सिन्हा ने कहा कि बीजेपी में इस वक्त तानाशाही सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि ये वन मैन शो और टू मैन आर्मी की सरकार है। केंद्र के मंत्रियों को अपना सचिव रखने की इजाजत नहीं थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

modi

प्रधानमंत्री मंगलवार को उद्योग जगत को करेंगे संबोधित

नई दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी मंगलवार को उद्योग मंडल सीआईआई के 125वें स्थापना दिवस पर संबोधित करेंगे। जानकारों के मुताबिक कोरोना महामारी से उपजे आगे पढ़ें »

अभी नहीं चलेंगी निजी बसें

कोलकाता : 1 जून से लॉकडाउन खुलने की शुरुआत हो जाएगी और 8 से काफी हद तक राहत मिल जाएगी, लेकिन बंगाल के लोगों के आगे पढ़ें »

ऊपर