कांग्रेस में आए भाजपा के ‘शत्रु’, आते ही पटना साहिब से टिकट मिला

नयी दिल्लीः मशहूर अभिनेता शत्रुध्न सिन्हा ने आखिरकार भाजपा के स्थापना दिवस पर कांग्रेस का हाथ थाम ही लिया। दिल्ली में शनिवार को कांग्रेस के अध्यक्ष राहुल गांधीने उन्हें कांग्रेस की सदस्यता दिलाई। इसके साथ ही कांग्रेस ने घोषणा की है कि पार्टी के टिकट से शत्रुघ्न सिन्हा पटना साहिब संसदीय सीट से इस बार पार्टी के उम्मीदवार होंगे। इस मौके पर शुरू से ही मोदी के शत्रु रहे शत्रुघ्न का दर्द भी खुलकर सामने आ ही गया। उन्होंने सवाल किया कि मुझे आखिर मंत्री क्यों नहीं बनाया गया?

उन्होंने कांग्रेस मुख्यालय में कांग्रेस महासचिव के सी वेणुगोपाल, पार्टी के मुख्य प्रवक्ता रणदीपसिंह सुरजेवाला तथा बिहार के पार्टी प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल की मौजूदगी में पार्टी की सदस्यता ग्रहण की।

भाजपा के पार्टी नेतृत्व से नाराज थे सिन्हा

काफी समय से पार्टी नेतृत्व से नाराज चल रहे ‌सिन्हा पिछले महीने कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से उनके आवास पर मुलाकात की थी और तभी से ही उनका कांग्रेस में शामिल होना तय माना जा रहा था। उसके बाद उन्होंने खुद तय किया था कि वह नवरात्र की शुरुआत में 6 अप्रैल को कांग्रेस में शामिल होंगे।

इस दौरान पार्टी नेता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि बेबाक राय रखने वाले सिन्हा गलत पार्टी में थे। केसी वेणुगोपाल ने कहा कि उन्हें उम्मीद है कि सिन्हा कांग्रेस की विचारधारा को आगे बढ़ाने में मददगार साबित होंगे।

भाजपा पर जमकर बरसे सिन्हा

कांग्रेस में शामिल होने के बाद उन्होंने कांग्रेस नेतृत्व का आभार व्यक्त किया और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह पर हमला करते हुए कहा कि बीजेपी में उन्होंने लोक शाही को धीरे-धीरे तानाशाही में परिवर्तित होते देखा। सिन्हा ने कहा कि मौजूदा बीजेपी नेतृत्व ने यशवंत सिन्हा, मुरली मनोहर जोशी, अरुण शौरी जैसे कद्दावर नेताओं को पार्टी से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

वन मैन शो

कांग्रेस में शामिल होते ही शनिवार को काफी समय बाद उनके दिल में दबे दर्द को बयां करते हुए पूछा कि आखिर बीजेपी सरकार में उन्हें मंत्री क्यों नहीं बनाया गया। बीजेपी में इस वक्त तानाशाही सरकार चल रही है। उन्होंने कहा कि ये वन मैन शो और टू मैन आर्मी की सरकार है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

सन्मार्ग एक्सक्लूसिव :आर्थिक पैकेज से हर वर्ग को राहत, न अन्न की कमी, न धन की : ठाकुर

 विशेष संवाददाता, कोलकाता : कोविड-19 संकट के आघात से देश और देश की अर्थव्यवस्था को उबारने के लिए केंद्र सरकार हरसंभव कोशिश कर रही है। आगे पढ़ें »

जार्ज फ्लायड की मौत पर आईसीसी ने कहा, विविधता के बिना क्रिकेट कुछ नहीं

दुबई : अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) ने शुक्रवार को कहा कि ‘क्रिकेट विविधता के बिना कुछ भी नहीं है।’ उसने यह बयान अफ्रीकी मूल के आगे पढ़ें »

टेस्ट मैच में लागू होगा कोरोना सब्स्टीट्यूट, जल्द मिलेगी आईसीसी की मंजूरी

विश्व पर्यावरण दिवस विशेष : तीन दशक से पर्यावरण-जंगल की रक्षा कर रहे रामगढ़ के वीरू महतो

स्थिति ठीक होने पर ही टूर्नामेंट्स हो, आज यूएस ओपन होता है तो मैं नहीं खेलूंगा : नडाल

ट्रेडिंग के आखिरी के घंटों में गंवाया लाभ, निफ्टी 0.32% और सेंसेक्स 128.84 अंक नीचे हुआ बंद

आईडब्ल्यूएफ से मुआवजे की मांग करेंगी भारोत्तोलक संजीता चानू

दर्शकों के बिना कैसे होगा विश्व कप, उचित समय का इंतजार करे आईसीसी : अकरम

बंगाल में तूफान से भी तेज हुई कोरोना मामलों की गति, अब तक के सबसे अधिक आए मामले

पश्चिम बंगाल में बेरोजगारी की दर देश की तुलना में कम: सीएमआईई आंकड़े

एसबीआई ने 2019-20 की चौथी तिमाही में 3,581 करोड़ रुपये का शुद्ध लाभ दर्ज किया

ऊपर