लालू यादव का दावाः दोबारा महागठबंधन में शामिल होना चाहते थे नीतीश कुमार

पटना: राष्ट्रीय जनता दल (राजद) अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव ने ‘गोपालगंज से रायसीना, मेरी राजनीतिक यात्रा’ नामक किताब लिखी है। इस किताब में राजद अध्यक्ष लालू ने दावा किया है कि बिहार के मुख्यमंत्री और जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार महागठबंधन से अलग होने और भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) से हाथ मिलाने के छह महीने बाद दोबारा वापसी करना चाहते थे। साथ ही उन्होंने यह भी दावा किया है कि उन्होंने इनकार कर दिया। वजह बताया कि नीतीश कुमार में वह अपना विश्वास खो चुके थे।
इस सिलसिले में पांच बार मिले प्रशांत किशोर
लालू यादव ने किताब में दावा किया है कि इसके लिए चुनावी रणनीतिकार और जदयू के वर्तमान उपाध्यक्ष प्रशांत किशोर पांच बार उनसे मिले थे। हालाकि प्रशांत किशोर ने लालू यादव के इस दावे के निराधार और बकवास बताया है। लालू प्रसाद के दावे पर प्रशांत किशोर ने जोरदार पलटवार करते हुए कहा ‘लालू जी के द्वारा जो भी दावे किए जा रहे हैं वह बनावटी है। एक नेता के द्वारा प्रासंगिकता में बने रहने के लिए यह एक घटिया कोशिश के अलावा और कुछ नहीं है।’ साथ ही उन्होंने मुलाकात की बात को स्वीकारते हुए कहा ‘हां, जदयू ज्वाइन करने से पहले कई बार उनसे मिले थे, लेकिन अगर मैं उन तमाम बातों को बता दूं जो उनके साथ हुए थे तो वह काफी शर्मिंदगी महसूस करेंगे।’
नलिन वर्मा ने कहानी को पन्नों पर उतारा
दरअसल,राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद ने अपनी जीवनी पर एक किताब लिखी है। बिहार के जानेमाने पत्रकार नलिन वर्मा ने किताब को लिखा है। किताब का नाम गोपालगंज से रायसीना मेरी राजनीतिक यात्रा है। रुपा प्रकाशन की ओर से छपि किताब हिन्दी और अंग्रेजी दोनों भाषाओं में प्रकाशित की गयी है। यह किताब लालू प्रसाद के बारे में गहराई से पूरी जानकारी मुहैया कराती है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

इन रूटों पर स्पाइसजेट चलाएगी नए फ्लाइट्स

स्पाइसजेट, छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट नई दिल्ली : स्पाइसजेट सितंबर, 2019 से मुंबई में अपनी सभी फ्लाइटों को छत्रपति शिवाजी महाराज इंटरनेशनल एयरपोर्ट के टर्मिनल आगे पढ़ें »

Amit Shah

शाह बोले – राहुल के लिए अनुच्छेद 370 राजनीतिक मुद्दा, हमारे लिए अखंड भारत का संकल्प

मुंबई : भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) के राष्ट्रीय अध्यक्ष और केंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह ने रविवार को मुंबई में विजय संकल्प रैली को संबोधित करते आगे पढ़ें »

ऊपर