सिमी पर लगा 5 साल के लिए प्रतिबंध

नई दिल्ली : देश में विभिन्न आतंकवादी वारदातों में कथित तौर पर शामिल स्टूडेंट्स इस्लामिक मूवमेंट ऑफ इंडिया (सिमी) को केंद्र सरकार ने पांच और साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया है। इस संगठन पर आरोप है कि वो देश में लगातार विध्वंसक व तोड़-फोड़ गतिविधियों में शामिल है। गृह मंत्रालय की एक अधिसूचना के अनुसार, यदि सिमी की गैरकानूनी गतिविधियों पर अंकुश नहीं लगाया गया और इसे तुरंत नियंत्रित नहीं किया गया तो यह अपनी विध्वंसक गतिविधियों को जारी रखेगी, अपने फरार कार्यकर्ताओं को फिर से संगठित करेगी और देश विरोधी भावनाओं को भड़का कर धर्मनिरपेक्ष ढांचे को बाधित करेगी। अधिसूचना में कहा गया है कि अब इसलिए गैरकानूनी गतिविधियां (रोकथाम) अधिनियम, 1967 की धारा 3 की उप-धाराएं (1) और (3) के तहत प्रदत्त शक्तियों का इस्तेमाल कर केंद्र सरकार ने सिमी को गैर-कानूनी संगठन घोषित किया है और यह अधिसूचना उपरोक्त अधिनियम की धारा 4 के तहत किए जा सकने वाले किसी भी आदेश के अधीन है, जिसका प्रभाव पांच साल की अवधि के लिए होता है। बयान के मुताबिक यह आदेश बीते गुरुवार से लागू हो गया है। जिन आतंकवादी गतिविधियों में सिमी के सदस्य कथित रूप से शामिल रहे हैं उनमें बिहार के गया में 2017 में हुआ धमाका, 2014 में बेंगलुरू के चिन्नास्वामी स्टेडियम में विस्फोट और 2014 में ही भोपाल में जेल ब्रेक कांड शामिल हैं।

सिमी का भारत को इस्लामिक मुल्क बनाने का है एजेंडा
सिमी की स्थापना 25 अप्रैल, 1977 को उत्तर प्रदेश के अलीगढ़ में हुई थी और यह संगठन कथित रूप से भारत को इस्लामिक राज्य में परिवर्तित कर भारत को आजाद कराने के एजेंडे पर काम करता आया है। इसे पहली बार 2001 में एक गैरकानूनी संगठन घोषित किया गया था और तब से इसे कई बार प्रतिबंधित किया गया है। पिछली बार 1 फरवरी, 2014 को तत्कालीन यूपीए सरकार ने सिमी पर पांच साल के लिए प्रतिबंध लगाया था। इस प्रतिबंध की पुष्टि 30 जुलाई, 2014 को एक न्यायाधिकरण ने की थी।

शेयर करें

मुख्य समाचार

राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन, ऐसे करें आवेदन

" हमारा सपना हर छात्र माने हिंदी को अपना" हर साल की तरह इस साल भी हम लेकर आये हैं राम अवतार गुप्त प्रोत्साहन। इस बार आगे पढ़ें »

स्वतंत्रता दिवस के पहले हुगली में हथियारों का जखीरा जब्त, 8 गिरफ्तार

हुगली : स्वतंत्रता दिवस के 24 घंटे पहले हुगली जिले के चुंचुड़ा थाने की पुलिस ने कोडलिया मानसटला में छापेमारी कर भारी मात्रा में आग्नेयास्त्र, आगे पढ़ें »

इन लोगों के लिए तरक्‍की के नए रास्‍ते खोलेगा यह सप्‍ताह, पढ़ें अपना टैरो राशिफल

कोलकाता सीबीआई के अधिकारी को मिला केन्द्रीय गृह मंत्री पदक

बंगालः नाव पलटने से दामोदर में बहे दो लोग

दलित छात्र ने घड़े से पिया पानी तो वहशी बन गया टीचर, ताबड़तोड़…

इन तीन लोगों को अपने घर डिनर पर बुलाना चाहते थे झुनझुनवाला, नहीं पूरा हो पाया सपना

अंधेरे के फायदा उठाकर कैनिंग में तृणमूल समर्थक को मारी गयी गोली, 4 गिरफ्तार

ब्रेकिंग: अलविदा राकेश झुनझुनवाला, ब्रीच कैंडी अस्पताल में आखिरी सांस ली

जानिए चेहरे पर क्यों आते हैं मुंहासे, इन्हें जड़ से खत्म कर देंगे यह घरेलू उपाय

स्वाधीनता दिवस पर 288 के बजाय 188 मेट्रो सर्विसेज

ऊपर