विमानों पर लेजर हथियार से लक्ष्य बनाने पर जिबूती में अमेरिका और चीन में ठनी

नई दिल्लीः दक्षिण चीन सागर में चीन द्वारा लेजर हथियार से अमेरिकी वायु सेना के विमान पर लक्ष्य बनाने से दोनों देशा में ठन गई है। दरअसल, अफ्रीका के जिबूती में अमेरिकी वायुसेना के विमान पर छोड़ी ई लेजर बीम को लेकर अमेरिका ने सीधे तौर पर चीन पर आरोप लगाया है। वहीं, चीन ने इन आरोपों को खारिज कर दिया है।
अमेरिका का साफतौर पर कहना है कि यह काम चीन के अलावा कोई दूसरा नहीं कर सकता है। आपको बता दें कि चीन और अमेरिका दोनों का ही जिबूती में मिलिट्री बेस है। चीन ने पिछले वर्ष जुलाई में अपने मिलिट्री बेस की यहां पर शुरुआत की है जबकि अमेरिका इससे पहले से ही यहां पर है। यहां पर जापान का भी एक मिलिट्री बेस भी है।
अफ्रीका महाद्वीप के मुहाने पर स्थित जिबूती में अमेरिका का बड़ा सैन्य अड्डा है, जहां चार हजार जवान तैनात हैं। इनमें स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप भी शामिल है। अमेरिका यहीं से यमन में चल रहे गृहयुद्ध और सोमालिया के हालात की निगरानी करता है। दोनों देशों के सैन्य अड्डों की दूरी कुछ ही किलोमीटर है। अमेरिकी रक्षा मंत्रालय पेंटागन ने लेजर बीम से निशाना बनाने की घटना को गंभीरता से लिया है और चीन सरकार से इसकी जांच करने के लिए कहा है। अमेरिका के मुताबिक यह घटना उस वक्‍त घटी जब अमेरिकी वायुसेना का विमान हरक्‍यूलिस सी 130 हवाई अडडे पर उतर रहा था। उसी वक्‍त विमान को निशाना बनाया गया जिसकी वजह से पायलट की आंखें खराब हो गईं और वह जख्‍मी भी हो गया। अमेरिका ने यहां तक आरोप लगाया है कि यह घटना पहली बार नहीं घटी है बल्कि इस तरह की घटना चीन के यहां पर मिलिट्री बेस बनाने के बाद से करीब दस बार हो चुकी है।
चीन ने कहा- अमेरिका का आरोप आधारहीन
जवाब में चीन के रक्षा मंत्रालय ने बयान जारी कर कहा है कि अमेरिका के आरोप झूठे हैं। चीन की गलत तरीके से निंदा की जा रही है। चीन के लोग पूरी गंभीरता से अंतरराष्ट्रीय नियमों और जिबूती के कानून का पालन कर रहे हैं। वे क्षेत्रीय सुरक्षा और स्थिरता को बनाए रखने के लिए वचनबद्ध हैं। चीनी विदेश मंत्रालय की प्रवक्ता हुआ चुनिइंग ने कहा कि अमेरिकी शिकायत मिलने के बाद गंभीरता से जांच की गई, सब कुछ ठीक पाया गया। इसलिए अमेरिका का आरोप आधारहीन है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

pragya

प्रज्ञा ठाकुर को संदिग्ध लिफाफे भेजने वाला डॉक्टर महाराष्ट्र से गिरफ्तार

औरंगाबाद : बीजेपी सांसद प्रज्ञा सिंह ठाकुर को कथित तौर पर संदिग्ध लिफाफे और धमकी भरी चिट्ठी भेजने के आरोप में मध्य प्रदेश आतंकवाद निरोधी आगे पढ़ें »

सानिया ने 42वां डबल्स खिताब जीता, होबार्ट इंटरनेशनल टूर्नामेंट के फाइनल में चीनी जोड़ी को हराया

होबार्ट : सानिया मिर्जा ने दो साल के विश्राम के बाद वापसी पर स्वप्निल शुरुआत करते हुए शनिवार को यहां नादिया किचनोक के साथ मिलकर आगे पढ़ें »

raut

सावरकर के विरोधियों को भेज दो अंडमान जेल, तभी होगा बलिदान का एहसासः राउत

usmania

माओवादियों से संबंध रखने के आरोप में उस्मानिया विश्वविद्यालय का प्राध्यापक गिरफ्तार

iran

ईरान के साथ परमाणु समझौते पर अमेरिका को मना सकता है भारतः विदेश मंत्री जरीफ

trump

ट्रंप ने ईरान के शीर्ष नेता को चेताया, कहा- संभलकर बोले खामनेई

bhagwat

भारत में सभी के पूर्वज हिंदू, यह हिंदुओं का देश है : मोहन भागवत

pak

पाकिस्तान : आसिया बीबी मामले में 86 कट्टरपंथियों को 55 साल कैद की सजा

guha

नरेंद्र मोदी परिश्रमी, राहुल गांधी का सांसद चुना जाना विनाशकारी : रामचंद्र गुहा

nirbhaya

वकील इंदिरा जयसिंह पर भड़कीं निर्भया की मां, कहा- ऐसे लोगों के कारण होते हैं दुष्कर्म

ऊपर