वाराणसी में आज देवों की दीपावली

  • काशी में बाबा विश्वनाथ के दर्शन करने पहुंचे मोदी
  • देव दीपावली की शुरुआत कर सारनाथ जाएंगे
  • रिमोट से बटन दबाकर नैशनल हाइवे 19 का उद्घाटन किया
  • आज काशी में दिखेगा आलौकिक दृश्य
  • 15 लाख दीये से जगमगा उठेंगे 84 घाट

वाराणसीः देव दीपावली के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र वाराणसी पहुंच गए हैं। उनके दौरे को लेकर वाराणसी में जोर-शोर से तैयारियां की गई हैं। घाटों की साफ-सफाई से लेकर रंग रोगन तक सारे इंतजाम किए गए हैं। सुरक्षा का भी खास ख्याल रखा गया है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे। इस दौरान वाराणसी के घाट 15 लाख दीयों के जगमगाएंगे। बता दें कि पीएम मोदी अपने दूसरे कार्यकाल में तीसरी बार वाराणसी आए हैं। प्रधानमंत्री मोदी छह लेन वाले राष्ट्रीय राजमार्ग 19 का उद्घाटन भी किया। यह सड़क वाराणसी को प्रयागराज से जोड़ेगी।

रिमोट से बटन दबाकर किया उद्घाटन

प्रधानमंत्री मोदी ने रिमोट से बटन दबाकर नैशनल हाइवे 19 का उद्घाटन किया है। यह परियोजना वाराणसी को प्रयागराज से जोड़ेगी। इससे पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पीएम मोदी का स्वागत करते हुए कहा कि वह यहां पर दो प्राचीन शहरों को जोड़ने के लिए आए हैं। इस सड़क के निर्माण में 2447 करोड़ रुपये की लागत आई है। इस मार्ग में आवाजाही शुरू होने के बाद वाराणसी-प्रयागराज की दूरी तय करने में एक घंटा कम समय लगेगा। मोदी ने कही 2013 में जब मैंने यहां पहली जनसभा की थी तो यह 4 लेन की सड़क थी लेकिन अब 6 लेन की सड़क हो गई है। इसका लाभ काशी के साथ प्रयागराज के लोगों को भी मिलेगा।

प्रधानमंत्री के भाषण पर एक नजर

  • आप सभी को देव दिवाली और गुरु परब की शुभकामनाएं। आज काशी को आधुनिक इन्फ्रास्ट्रक्चर का एक और उपहार मिल रहा है। इसका लाभ काशी के साथ ही प्रयागराज के लोगों को भी होगा।
  • मुझे याद है 2013 में मेरी पहली जनसभा इसी मैदान पर हुई थी और तब यहां से गुजरने वाला हाईवे 4 लेन का था। बाबा विश्वनाथ के आशीर्वाद ये हाईवे 6 लेन का हो चुका है।
  • पहले जो लोग हंडिया से राजातालाब आते-जाते थे, उन्हें मुश्किलों का पता है। 70 किमी का ये सफर अब आराम से होगा।
  • कांवड़ यात्रा के दौरान कांवड़ियों और लोगों को जो परेशानी होती थी, वो भी खत्म हो जाएगी। इसका फायदा कुंभ के दौरान भी मिलेगा। आस्था से जुड़ी जगह हो या काम की, लोग आने-जाने से पहले यह देखते हैं वहां आना-जाना कितना आसान है।
  • नया हाईवे बनाना हो, पुल बनाना हो, रास्तों को चौड़ा करना हो, बनारस के इलाकों में अभी हो रहा है, उतना आजादी के बाद कभी नहीं हुआ। बनारस का सेवक होने के नाते मेरा प्रयास यही है कि यहां के लोगों का जीवन आसान हो।बीते सालों में हजारों करोड़ के प्रोजेक्ट पूरे किए गए और कई पर काम चल रहा है। रेलवे स्टेशन की कनेक्टिविटी बेहतर हुई है।
  • रिंग रोड का काम भी तेजी से चल रहा है। सुल्तानपुर, गाजीपुर और आजमगढ़ से आने वाले वाहन बिना शहर में घुसे इस हाईवे से गुजर सकेंगे।
  • अच्छी सड़कें, अच्छी रेल सेवा, अच्छी और सस्ती हवाई सेवा समाज को सुविधा देती हैं। मध्यम वर्ग को इसका सबसे ज्यादा लाभ मिलता है। प्रोजेक्ट में बहुतों को रोजगार मिलता है।
  • कोरोना के समय में मजदूरों के लिए ये प्रोजेक्ट आय का जरिया बने हैं।
  • योगी सरकार में इन्फ्रास्ट्रक्चर प्रोजेक्ट में तेजी आई है। पहले की स्थिति आप जानते हैं। आज यूपी एक्सप्रेस प्रदेश बन चुका है। पांच मेगा प्रोजेक्ट पर एक साथ काम चल रहा है।
  • 3-4 साल पहले यूपी में दो एयरपोर्ट प्रभावी थे, अब दर्जनभर एयरपोर्ट तैयार हो रहे हैं। इसके अलावा कुशीनगर के एयरपोर्ट को इंटरनेशनल एयरपोर्ट के रूप में डेवलप किया जा रहा है। जब किसी क्षेत्र में आधुनिक कनेक्टिविटी का विकास होता है, तो सबका विकास होता है।इसी साल देश के इतिहास में पहली बार चलते-फिरते कोल्ड स्टोरेज यानी किसान रेल शुरू की गई है। इससे किसानों की बड़े शहरों तक पहुंच बढ़ी है। वाराणसी समेत पूर्वांचल में जो बेहतरीन इन्फ्रा तैयार हुआ है, उसका फायदा पूरे क्षेत्र को हुआ है।
  • नए कृषि सुधारों से किसानों को नए विकल्प मिले, कुछ लोग फैला रहे हैं भ्रम।
  • दशकों तक किसानों के साथ छल किया गया।
  • सालों तक योजनाओं ‌और एमएसपी को लेकर छल किया गया।
  • कर्जमाफी के नाम पर भी किसानों से छल किया गया।
  • भविष्य का डर दिखाया जा रहा है।
  • यूरिया, खाद के नाम पर भी किसानों के साथ छल किया गया।
  • किसानों का लाभ किसी और को मिलता था।
  • हमने यूरिया की कालेबाजारी को रोका और किसानों तक यूरिया पहुंचाया।
  • कोरोना काल में भी हमने अपने वादे को पूरा करते हुए किसानों तक यूरिया पहुंचाया।
  • किसानों के बैंक खाते तक पैसा पहुंचाने का प्रबंध किया।
  • सरकार का ट्रैक रिकॉर्ड देखे किसान।
  • किसानों को पहले यूरिय के लिए लाठियां खानी पड़ती थी।
  • 5 साल में किसानों ने 49 हजार करोड़ की दाल बेची, हमने दाल की खरीद 75 फीसदी बढ़ाई है।
  • किसानों को बरगलाया जा रहा है।
  • हमारी सरकार ने मंडियों पर खर्च किया है।
  • किसानों के खाते में 1 लाख करोड़ रुपये पहुंचा।
  • बंगाल के किसानों के लिए कहा- जब हमारी सरकार बनेगी हम वहां के किसानों को पैसा देंगे।
  • अब छल नहीं गंगाजल जैसी पवित्र नीयत।

देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे मोदी

पीएम मोदी के वाराणसी आगमन से पहले घाटों को सजाया गया। सफाई साफ से लेकर रंग रोगन किया गया है। फूल मालाओं से घाटों का सौंदरीकरण किया गया। पीएम मोदी यहां देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे। इस दौरान काशी के 84 घाटों में लगभग 15 लाख दीये रोशन होंगे।

तैयारियों का जायजा लेने पहुंचे डीएम

पीएम मोदी के दौरे से पहले डीएम कौशलराज शर्मा ने खुद राजघाट जाकर तैयारियों की समीक्षा की। उन्होंने बताया कि पीएम मोदी देव दीपावली का पहला दीया जलाएंगे। सारी तैयारियां पूरी हो चुकी हैं।

पहली बार गंगा मार्ग से पहुंचेंगे काशी विश्वनाथ धाम

पीएम मोदी 30 नवंबर यानी सोमवार को साढ़े घंटे तक वाराणसी में रहेंगे। इस दौरान वह गंगा नदी पर तैनात क्रूज से वह विश्वनाथ धाम भी जाएंगे। 3 बजे खजूरी में जनसभा को पीएम मोदी संबोधित करेंगे। खजूरी में ही वाराणसी- हंडिया 6 लेन हाइवे का लोकार्पण करेंगे।

चेतसिंह घाट पर होगा लेजर शो

पीएम मोदी अलकनंदा क्रूज से नौका विहार करते हुए चेतसिंह घाट पहुंचेंगे और यहां लेजर शो का लुत्फ उठाएंगे। पर्यटन विभाग ने लेजर शो के माध्यम से गंगा, शिव और काशी की महिमा की थीम पर खास आयोजन की तैयारी की है, जिसका रविवार को ट्रायल भी हुआ।

शेयर करें

मुख्य समाचार

‘जय श्री राम’ का नारा कहीं जानबूझ कर तो नहीं लगाया गया !

आगामी विस चुनाव पर पड़ सकता है खासा असर भाजपा के लिए बना चुनावी हथकंडा कोलकाता : ऐसा पहली बार नहीं है। पहले भी जय श्रीराम सुनकर आगे पढ़ें »

रविवार को करे ये काम, सफलता होगी साथ

नई दिल्ली : ज्योतिष के मानें तो रविवार को सुबह-सुबह इस उपाय को करने से पूरे सप्ताह सफलता अपके कदम चूमेगी। ऐसी मान्यता है कि आगे पढ़ें »

ऊपर