राहुल गांधी की प्रधानमंत्री को दी झप्पी को ‌कांग्रेस ने बनाया पोस्टर वॉर

नईदिल्लीः एक तरफ जहां भारतीय जनता पार्टी कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की झप्पी पर हमला बोल रही है, तो वहीं कांग्रेस इसे भावी चुनावों में भुनाने में लगी है। कांग्रेस ने इसको लेकर पोस्टर वॉर भी शुरू कर दिया है। कांग्रेस ने एक पोस्टर जारी किया है, जिसमें एक स्लोगन भी लिखा गया है कि नफरत से नहीं प्यार से जीतेंगे। माना जा रहा है राहुल ने सदन में जो कुछ किया, वो उनके चुनावी रणनीति का हिस्सा था।
राहुल की झप्पी को कांग्रेसी भुनाने की कोशिश
अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की प्रधानमंत्री को दी गई ‘झप्पी’ को लेकर भले ही सोशल मीडिया पर जोक्स बनने लगे हो। लेकिन कांग्रेस ने इस मौके को बखूबी भुनाने की कोशिश करते हुए नए ‘पोस्टर वॉर’ को जन्म दे दिया है। जिसे देखकर यही मालूम पड़ रहा है कि कांग्रेस ने चुनाव प्रचार के लिए नई टैगलाइन निर्धारित कर ली है। दरअसल, सदन में बोली गई राहुल गांधी की बात को चुनाव से पहले टैग लाइन बनाकर कांग्रेस सड़क पर ले आई है।
पहले से तय था राहुल की झप्पी
दरअसल, महाराष्ट्र कांग्रेस की ओर से सड़क पर राहुल की पीएम मोदी से गले लगने वाली तस्वीर के साथ पोस्टर लगवाए गए हैं। इसमें लिखा है कि ‘नफरत से नहीं प्यार से जीतेंगे’। गौरतलब है कि शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव के दौरान कांग्रेस अध्यक्ष ने अपने भाषण में इसी लाइन का इस्तेमाल किया था। माना जा रहा है राहुल ने सदन में जो कुछ किया, वो उनके चुनावी रणनीति का हिस्सा था।
सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा पोस्टर
इस रणनीति के तहत राहुल की टैगलाइन को मुंबई कांग्रेस ने सड़क तक ले जाने के लिए विशेष ऑनलाइन और ऑफलाइन पोस्टर तैयार किए हैं। जैसे राहुल की मोदी से लगे लगने वाली तस्वीर वायरल हुई, उसी तेजी से ये पोस्टर भी सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इस पोस्टर में राहुल और मोदी की गले मिलने वाली तस्वीर के साथ बड़े-बड़े अक्षरों में लिखा गया है कि ‘नफरत से नहीं प्यार से जीतेंगे’।
2019 को नजर में रख कांग्रेस ने बिछाई बिसात
गौरतलब है कि शुक्रवार को अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान अपना भाषण खत्म करने के बाद राहुल गांधी ने प्रधानमंत्री की सीट पर जाकर उन्हें गले लगाया। उनका यूं पीएम से गले मिलना चर्चा का विषय बना हुआ है। कोई से संसद की गरिमा का उल्लंघन बता रहा है, तो कोई राहुल का बचपना बता रहा है। हालांकि कुछ ऐसे भी है जो इसे राहुल का बड़प्पन बोल रहे हैं। शनिवार को यह तमाम अखबारों की सुर्खियां बना और अखबारों में इस पर लेख भी छपे। हालांकि कांग्रेस अब इसे भुनाने कर 2019 की बिसात तैयार करने की कोशिश में जुट गई है।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बजट : पूर्व वित्त सचिव एस सी गर्ग ने इनकम टैक्स को लेकर सरकार को दिए ये सुझाव

नई दिल्ली : बजट पूर्व अपने सुझाव में पूर्व वित्त सचिव एस सी गर्ग ने कहा है कि इनकम टैक्स को सरल बनाया जाए। गर्ग आगे पढ़ें »

modi

परीक्षा पे चर्चा : पीएम मोदी ने छात्रों को विफलता से निपटने का दिया गुरूमंत्र

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को ‘परीक्षा पे चर्चा 2020’ कार्यक्रम में छात्रों को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने छात्रों को कहा आगे पढ़ें »

ऊपर