राज्यसभा सांसद एम.पी वीरेंद्र कुमार का निधन

कोझिकोड :राज्यसभा सांसद एवं अग्रणी मलयालम दैनिक ‘मातृभूमि’ के प्रबंध निदेशक एम पी वीरेंद्र कुमार का हृदयाघात के कारण गुरुवार देर रात यहां निधन हो गया। वह 84 वर्ष के थे। प्रसिद्ध राजनीतिज्ञ एवं सत्तारूढ़ गठबंधन के सहयोगी लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद) के प्रदेश अध्यक्ष  कुमार की गिनती प्रसिद्ध समाजवादी नेताओं में की जाती थी और वह 1987 में विधानसभा के लिए तथा 1996 और 2004 में लोकसभा के लिए निर्वाचित हुए थे। उन्होंने केरल सरकार में श्रम मंत्री के तौर पर तथा केंद्र सरकार में श्रम राज्य मंत्री और वित्त राज्यमंत्री के तौर पर अपनी सेवाएं दी थी। वह श्री ई के नयनार (1987-1991) के शासनकाल में कुछ दिनों के लिए वन मंत्री भी बने थे, लेकिन पार्टी में मतभेद के कारण महज पांच दिन में ही अपने पद से इस्तीफा दे दिया था।

शेयर करें

मुख्य समाचार

बंगाल में तीसरे दिन भी कोरोना के 800 से ज्यादा मामले, 25 की हुई मौत

कोलकाता : वेस्ट बंगाल कोविड-19 हेल्थ बुलेटिन के अनुसार पश्चिम बंगाल में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस संक्रमण के 850 नये मामले आये है आगे पढ़ें »

कोरोना की वजह से 9वीं-12वीं के पाठ्यक्रम 30 फीसदी घटे

नयी दिल्ली : कोविड-19 के बढ़ते मामलों के बीच स्कूलों के ना खुल पाने के कारण शिक्षा व्यवस्था पर असर और कक्षाओं के समय में आगे पढ़ें »

ऊपर